उत्तराखंड | कोरोना के मामले हो रहे कम लेकिन आई चिंता बढ़ाने वाली ख़बर

कोरोना संक्रमण से देश में सबसे ज्यादा मृत्यु दर देश के 11 राज्यों में से छह हिमालयी राज्यों में है। इनमें उत्तराखंड की मृत्यु दर हिमालयी राज्यों में सबसे ज्यादा है।
 
corona

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में हालांकि कोरोना का खतरा दिन ब दन कम होता जा रहा है लेकिन मृत्यु दर के मामले में जो रिपोर्ट सामने आई है, वो चिंता बढ़ाने वाली है।

कोरोना संक्रमण से देश में सबसे ज्यादा मृत्यु दर देश के 11 राज्यों में से छह हिमालयी राज्यों में है। इनमें उत्तराखंड की मृत्यु दर हिमालयी राज्यों में सबसे ज्यादा है।

पांच जून तक सर्वाधिक मृत्यु दर वाले हिमालयी राज्यों में उत्तराखंड के बाद नागालैंड, हिमाचल प्रदेश, मेघालय, सिक्किम और मणिपुर है। उत्तराखंड में कोरोना मृत्यु दर दो प्रतिशत के आसपास है। दूसरे नंबर पर नागालैंड (1.9 फीसदी) और तीसरे नंबर पर हिमाचल प्रदेश (1.7 फीसदी) है)


 

सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनीटीज फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल बताते हैं- हिमालयी राज्यों में कोरोना मृत्यु दर का अत्यधिक होना बेहद चिंता का विषय है। जन स्वास्थ्य के मामले में सभी हिमालयी राज्यों में कमोवेश एक जैसी स्थिति है। डॉक्टरों व दक्ष कर्मचारियों की कमी, संसाधनों की समस्या सभी हिमालयी राज्यों में समान है।

नौटियाल कहते हैं कि केंद्र और राज्य सरकारों को इस बारे गंभीरता से विचार करना होगा क्योंकि यह चिंता केवल हिमालयी राज्य में वास करने वाले लोगों के स्वास्थ्य को लेकर नहीं है, बल्कि सवाल करोड़ों की संख्या में हर साल वहां यात्रा और सैर करने वाले सैलानियों और श्रद्धालुओं की सेहत का भी है।

24 घंटे में 619 नए मामले 

शनिवार को प्रदेश भर में कोरोना के 619 मामले सामने आए।। इसी के साथ प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 333578 पहुंच गई है। वहीं 16 संक्रमित मरीजों की 24 घंटे में कोरोना से मौत हुई। लेकिन अच्छी खबर ये है कि 2531 लोगों ने कोरोना को मात दी है।

From around the web