उत्तराखंड | पर्यावरणविद सुंदर लाल बहुगुणा का 94 साल की उम्र में निधन

एम्स ऋषिकेश में भर्ती पर्यावरणविद सुंदर लाल बहुगुणा का 94 साल की उम्र में निधन हो गया है। बहुगुण कोरोना से संक्रमित थे और ऋषिकेश एम्स में उनका इलाज चल रहा था लेकिन शुक्रवार दोपहर 12 बजे उनका निधन हो गया। 
 
Sunder Lal
ऋषिकेश (उत्तराखंड पोस्ट) एम्स ऋषिकेश में भर्ती पर्यावरणविद सुंदर लाल बहुगुणा का 94 साल की उम्र में निधन हो गया है। बहुगुण कोरोना से संक्रमित थे और ऋषिकेश एम्स में उनका इलाज चल रहा था लेकिन शुक्रवार दोपहर 12 बजे उनका निधन हो गया। 

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में भर्ती 94 वर्षीय पर्यावरणविद सुंदलाल बहुगुणा को कोविड निमोनिया हुआ था। सिपेप मशीन सपोर्ट पर उनका ऑक्सीजन सेचूरेशन लेवल 86 फीसदी पर आ गया था।

 

पर्यावरणविद पदमविभूषण और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सुंदरलाल बहुगुणा का जन्म नौ जनवरी 1927 को टिहरी जिले में भागीरथी नदी किनारे बसे मरोड़ा गांव में हुआ। उनके पिता अंबादत्त बहुगुणा टिहरी रियासत में वन अधिकारी थे।

13 साल की उम्र में अमर शहीद श्रीदेव सुमन के संपर्क में आने के बाद उनके जीवन की दिशा ही बदल गई। सुमन से प्रेरित होकर वह बाल्यावस्था में ही आजादी के आंदोलन में कूद गए थे। उन्होंने टिहरी रियासत के खिलाफ भी आंदोलन चलाया। 

From around the web