उत्तराखंड | हरीश रावत से हुई बड़ी गलती, अहंकार पर मांगी सार्वजनिक माफी 

 उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने सार्वजिनक रुप से माफी मांगी है। हरदा का कहना है कि कल प्रेस कांफ्रेंस में थोड़ी गलती हो गई, मेरा नेतृत्व शब्द से अहंकार झलकता है। चुनाव मेरे नेतृत्व में नहीं बल्कि मेरी अगुवाई में लड़ा जाएगा। मैं अपने उस घमंडपूर्ण उद्बोधन के लिए क्षमा चाहता हूं, मेरे मुंह से वह शब्द शोभा जनक नहीं है।
 
harish rawat
 देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने सार्वजिनक रुप से माफी मांगी है। हरदा का कहना है कि कल प्रेस कांफ्रेंस में थोड़ी गलती हो गई, मेरा नेतृत्व शब्द से अहंकार झलकता है। चुनाव मेरे नेतृत्व में नहीं बल्कि मेरी अगुवाई में लड़ा जाएगा। मैं अपने उस घमंडपूर्ण उद्बोधन के लिए क्षमा चाहता हूं, मेरे मुंह से वह शब्द शोभा जनक नहीं है।

आपको बता दें कि हरदा ने बीते दिनों सोशल मीडिया में कांग्रेस संगठन पर सवाल उठाते हुए नाराजगी जताई थी। हरदा की इस पोस्ट से बड़ा सियासी भूचाल आया और कांग्रेस में खलबली मच गई। जिसके बाद सभी कांग्रेसियों को दिल्ली तलब किया गया था और कहा गया कि कांग्रेस एकजुट है और हरदा ने खुद मीडिया से कहा था कि चुनाव में कैंपेन कमेटी को वो लीड करेंगे। 

इसके बाद हरदा जब उत्तराखंड लौटे तो उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि उऩके नेतृत्व में कांग्रेस उत्तराखंड में चुनाव लड़ेगी। अब हरीश रावत को एहसास हुआ है कि नेतृत्व शब्द में अहंकार झलक रहा है तो हरदा ने माफी मांगते हुए कहा- कल प्रेस कांफ्रेंस में थोड़ी गलती हो गई, मेरा नेतृत्व शब्द से अहंकार झलकता है। चुनाव मेरे नेतृत्व में नहीं बल्कि मेरी अगुवाई में लड़ा जाएगा। मैं अपने उस घमंडपूर्ण उद्बोधन के लिए क्षमा चाहता हूं, मेरे मुंह से वह शब्द शोभा जनक नहीं है।

From around the web