उत्तराखंड | नाबालिग के हाथों में स्कूटी देना पड़ा महंगा, कटा 35 हजार का चालान

 

देहरादून में एक नाबालिक के हाथो स्कूटी की चाबी सौंपना उसके परिजनों को इतना महंगा पड़ गया कि शहर कोतवाली पुलिस ने घंटाघर पर एक नाबालिग वाहन चालक का 35 हजार रुपये का चालान करते हुए वाहन को सीज कर दिया।

 
chalaan

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) देहरादून में एक नाबालिक के हाथो स्कूटी की चाबी सौंपना उसके परिजनों को इतना महंगा पड़ गया कि शहर कोतवाली पुलिस ने घंटाघर पर एक नाबालिग वाहन चालक का 35 हजार रुपये का चालान करते हुए वाहन को सीज कर दिया।

 धारा चैकी इंचार्ज शिशुपाल राणा ने बताया कि शुक्रवार शाम को पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक नाबालिग स्कूटी चालक खतरनाक तरीके स्कूटी चलाते हुए पहुंचा। उसे रुकने का इशारा किया गया, लेकिन वह भागने का प्रयास करने लगा।

उसे रोकने पर उससे लाइसेंस मांगा गया तो वह लाइसेंस नहीं दिखा पाया। उम्र की जानकारी लेने पर पता लगा कि वह नाबालिग है। उन्होंने बताया कि स्कूटी का चालान करते हुए सीज कर दिया गया है। चौकी इंचार्ज ने बताया कि नाबालिग के वाहन चलाने पर 25 हजार रुपये का चालान है। वहीं नाबालिग की स्कूटी पर न तो नंबर प्लेट थी और न ही उसने हेलमेट पहना हुआ था।। इसके बाद पुलिस ने नए मोटर अधिनियम के अंतर्गत नाबालिक के वाहन चलाने पर 25 हजार का काटा,और बिना नंबर प्लेट,लाइसेंस और हेलमेट के साथ कुल मिलाकर 35 हजार का जुर्माना लगाते हुए वाहन को सीज कर दिया

From around the web