उत्तराखंड | सेना के जवान से बदसलूकी का गंभीर आरोप, पुलिसकर्मी पर गिरी गाज़, सस्पेंड

उत्तराखंड से बड़ी खबर है। सेना के जवान से बदसलूकी करने पर उत्तराखंड के पुलिस महानिदेश्क अशोक कुमार ने बड़ा फैसला लेते हुए पुलिसकर्मी पर कार्रवाई करते हुए सस्पेंड कर दिया है।
 
suspend
 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड से बड़ी खबर है। सेना के जवान से बदसलूकी करने पर उत्तराखंड के पुलिस महानिदेश्क अशोक कुमार ने बड़ा फैसला लेते हुए पुलिसकर्मी पर कार्रवाई करते हुए सस्पेंड कर दिया है।

आपको बता दें कि बीते दिनों श्रीनगर-गढ़वाल में एक ऐसा घटना हुआ जिसने हर किसी का खून खौला दिया। पुलिस के एक जवान पर सेना के जवान संग बदसलूकी का आरोप लगा है।

ऐसी ही एक घटना उत्तराखंड के श्रीनगर में हुई। यहां थाने के हेड मोहर्रिर पर सेना के जवान संग बदसलूकी करने का आरोप लगा है। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिस पर संज्ञान लेते हुए डीजीपी अशोक कुमार ने आरोपी हेड मोहर्रिर सुरेश रतूड़ी को सस्पेंड कर दिया है। उन्हें पौड़ी पुलिस लाइन में अटैच करने के आदेश जारी किए गए हैं।

दरअशल 30 आरआर में तैनात गढ़वाल राइफल्स के जवान ने श्रीनगर पुलिस पर अभद्रता और मारपीट का आरोप लगाया था। श्रीनगर गढ़वाल थाने से मिली जानकारी के मुताबिक सेना के जवान का भाई विक्रम भंडारी सड़क में नशे की हालत में उत्पात मचा रहा था। जिस कारण पुलिस उसे थाने ले आई थी। बताया जाता है कि विक्रम का फौजी भाई और मां भी कोतवाली पहुंचे थे। उन्होंने भी वहां हंगामा किया था।

इस दौरान विक्रम के परिजनों ने लिखित माफीनामा देकर किसी तरह मामला सुलझा लिया था। इस घटना के कुछ दिनों बाद सेना के जवान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ।

वीडियो में जवान ने श्रीनगर पुलिस पर अभद्रता और मारपीट का आरोप लगाया। इस मामले में पुलिस ने भी सेना के जवान पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पुलिस का कहना है कि घटना वाले दिन विक्रम की मां व भाई के जमानत देने पर युवक को छोड़ दिया गया था। इस दौरान सेना में तैनात युवक का भाई चिल्लाते हुए मोबाइल से वीडियो बनाने लगा। जब वह रोकने पर माना नहीं तो फोन लेकर उसे अंदर बैठा दिया गया।  बहरहाल इस मामले में वायरल होते वीडियो और मामले की गंभीरता को देखते हुए डीजीपी अशोक कुमार श्रीनगर थाने के हेड मोहर्रिर को सस्पेंड कर दिया है।

From around the web