दो बच्चों के खातों में आए 900 करोड़ रुपये, अपना-अपना अकाउंट चेक करने को लगी कतार

 बिहार के कटिहार में अनेखा मामला सामने आया है। यहां दो स्कूली बच्चों के खाते में रातों-रात 960 करोड़ रुपये आ गए। बच्चों के बैंक खाते में इतनी बड़ी राशि आने के बाद पूरे इलाके में लोग अपने बैंक खाते का बैलेंस चेक कर रहा है ।
 
CASH
 

कटिहार (उत्तराखंड पोस्ट) बिहार के कटिहार में अनेखा मामला सामने आया है। यहां दो स्कूली बच्चों के खाते में रातों-रात 960 करोड़ रुपये आ गए। बच्चों के बैंक खाते में इतनी बड़ी राशि आने के बाद पूरे इलाके में लोग अपने बैंक खाते का बैलेंस चेक कर रहा है ।

पूरा मामला बिहार के कटिहार जिले के आजमनगर प्रखंड पस्तिया गांव का है । बिहार में स्कूली बच्चों की पोशाक की राशि बैंक खाते में ही आती है बुधवार को पोशाक की राशि के लिए इन दोनों बच्चे के परिजन गांव के ही इंटरनेट केंद्र पर जब अपना अकाउंट चेक करवाने गए, तो उनके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई. केंद्र पर मौजूद दूसरे लोग भी बैंक खाते में इतनी बड़ी राशि देखकर हैरान थे.

कक्षा 6 में पढ़ने वाले गुरु चरण विश्वास के खाते में 60 करोड़ से अधिक की राशि पहुंची हैं और आशीत के खाते में 900करोड़ से अधिक की राशि आ गई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बैंक के शाखा प्रबंधक मनोज गुप्ता भी इस घटना से हैरान हैं। फिलहाल बैंक ने दोनों बच्चों के खाते से भुगतान पर रोक लगाते हुए कहा कि मामले की जांच करने की बात कही है। बैंक ने अपने वरीय पदाधिकारियों को भी इस बारे में सूचना दी है

बता दें कि इससे पहले खगड़िया जिले में रंजीत दास के खाते में अचानक साढ़े पांच लाख रुपये आ गए। खाते में रुपये आने के बाद उस व्यक्ति को लगा कि पीएम मोदी ने उसके खाते में ये रुपये भेजे हैं। उसने अपने खाते से वो रुपये निकाल लिए और खर्च करना शुरू कर दिया। 

बैंक की ओर से रंजीत दास को रुपये वापस करने के संदर्भ में कई नोटिस भी भेजे गए, लेकिन उसने पैसे वापस करने से साफ मना कर दिया। आखिरकार बैंक की ओर से रंजीत दास के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस ने रंजीत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया

From around the web