IAS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR, बोले- बेटी का धर्म परिवर्तन कराना चाहता है अब्दुल

  1. Home
  2. Country

IAS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR, बोले- बेटी का धर्म परिवर्तन कराना चाहता है अब्दुल

FIR

IAS अफसर के सारंगी का कहना है कि इसमें कुछ और लोगों ने अब्दुल का साथ दिया। एफआईआर में अब्दुल रहमान, वैदिक हिंदू सभा, गाजियाबाद के पदाधिकारी, आर्य समाज मंदिर ट्रस्ट, दिल्ली के पदाधिकारी नामजद हैं।


 

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) दिल्ली से एक हैरान कर देने वाली ख़बर सामने आई है। देश की राजधानी में पद्स्थ एक IAS अफसर ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए गाजियाबाद कोतवाली में FIR दर्ज करवाई है।

IAS अफसर का कहना है कि अब्दुल रहमान नाम के एक शख्स ने उनकी एकलौती बेटी डॉ. हर्ष भारती सारंगी से साजिश के तहत शादी की और उसका मकसद बेटी का धर्म परिवर्तन कराना है।

IAS अफसर के सारंगी ने गाजियाबाद कोतवाली में दी अपनी FIR में कहा- मेरी बेटी 2016 में यूक्रेन से एमबीबीएस कर वापस भारत लौटी थी। मेरठ के मवाना निवासी अब्दुल रहमान 2017 से उकी बेटी के पीछे पड़ा था और उसने मेरी बेटी को पहले फंसाया और फिर उससे शादी कर ली। फिलहाल अभी दोनों नोएडा में रह रहे हैं।

IAS अफसर के सारंगी का कहना है कि इसमें कुछ और लोगों ने अब्दुल का साथ दिया। एफआईआर में अब्दुल रहमान, वैदिक हिंदू सभा, गाजियाबाद के पदाधिकारी, आर्य समाज मंदिर ट्रस्ट, दिल्ली के पदाधिकारी नामजद हैं।

वहीं एफआईआर दर्ज होने का बाद आर्य समाज के आचार्य रामाशंकर पुरोहित का कहना है कि शादी के लिए जोड़ों से एफिडेविट लिया जाता है और घरवालों को सूचना दी जाती है। बिना धर्म परिवर्तन के अलग धर्म के लोगों के बीच आर्य समाज मंदिर में शादी नहीं की जा सकती है। दोनों विवाह करने वाले युगल का हिंदू होना जरूरी है। कानूनी कार्रवाई से बचने के लिए अब्दुल और भारती ने नवंबर 2018 में मंदिर में शादी करके इसका पंजीकरण भी कराया।

गाजियाबाद पुलिस कप्तान मुनिराज ने बताया कि शिकायत मिलने पर धारा 420 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। लड़की की पिता की तरफ से शिकायत मिली है कि लड़के ने धोखे से लड़की से शादी कर ली, जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। लड़का और लड़की दोनों एक साथ रह रहे हैं। अभी पुलिस जांच कर रही है. दोनों से पूछताछ के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसी अनुसार कार्रवाई की जाएगी।