कोरोना ने मचाया कोहराम, 13 घंटे में मां-पिता और बेटे की मौत 

हालत बिगड़ने पर उन्हें भी हॉस्पिटल में भर्ती करवाना पड़ा। इस दौरान उनका बेटा सचिन झिमुर जो एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर था और मुंबई में जॉब करता था, माता-पिता को देखने सांगली पहुंचा। सांगली पहुंचकर सचिन झिमुर भी कोरोना संक्रमित हो गया। बाद में सचिन को भी हॉस्पिटल में भर्ती करवाने की नौबत आ गई।

 
Corona
 

सांगली (उत्तराखंड पोस्ट) भारत में कोरोना का कहर के बीच आज राहत देने वाली खबर सामने आयी है। देश में बीते 24 घंटे में कोरोना की रफ्तार कम हुई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,76,070 नए मामले सामने आए हैं जबकि 3874 मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। कोरोना के नए मामलों के बाद देश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्‍या 2 करोड़ 57 लाख 72 हजार 400 हो गई है।

महाराष्ट्र के सांगली से एक दिल दहलाने वाली खबर सामने आयी है। यहां कोरोना ने एक ही परिवार के 3 लोगों की जान ले ली। जानकारी के मुताबिक सांगली के शिराला तहसील के शिरशी गांव में कोरोना ने अपना कहर बरपया। सबसे पहले परिवार के बुजुर्ग सहदेव झिमुर (75) कोरोना से संक्रमित हुए, जिसके बाद उन्हें एक प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया। फिर कुछ दिन के बाद कोरोना संक्रमित सहदेव की पत्नी सुशीला झिमूर भी कोविड-19 की चपेट में आ गईं।

हालत बिगड़ने पर उन्हें भी हॉस्पिटल में भर्ती करवाना पड़ा। इस दौरान उनका बेटा सचिन झिमुर जो एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर था और मुंबई में जॉब करता था, माता-पिता को देखने सांगली पहुंचा। सांगली पहुंचकर सचिन झिमुर भी कोरोना संक्रमित हो गया। बाद में सचिन को भी हॉस्पिटल में भर्ती करवाने की नौबत आ गई।

फिर अस्पताल में सहदेव झिमुर और उनकी पत्नी सुशीला झिमुर मौत हो गई, दोनों का निधन सिर्फ 5 घंटे के अंदर हो गया। वहीं दूसरी तरफ, माता-पिता की मौत के कुछ घंटे के बाद ही उनके बेटे सचिन की भी बुधवार को मौत हो गई। इस तरह 13 घंटे में एक परिवार के 3 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो गई।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में 34,031 नए मरीज सामने आने से कुल मामले 54 लाख 67 हजार 537 हो गए और 594 मरीजों की जान जाने से मृतक संख्या 84,371 हो गयी। बुधवार को 51,457 मरीजों को छुट्टी दी गयी। अब तक राज्य में 49,78,937 मरीज संक्रमणमुक्त हो चुके हैं।

From around the web