कोरोना ने मचाया कोहराम, कानून मंत्री ने चेताया- लगाना पड़ सकता है लॉकडाउन

कानून मंत्री ने लिखा है कि प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना की जांच बंद हो गई है, जो बेहद गलत है। शहर में इस वक्त 17 हजार कोविड जांच किटों की ज़रूरत है, लेकिन 10 हज़ार ही मिल रही हैं।

 
कोरोना ने मचाया कोहराम, कानून मंत्री ने चेताया- लगाना पड़ सकता है लॉकडाउन
लखनऊ (उत्तराखंड पोस्ट) कोरोना की दूसरी लहर के चलते देश में नए केस लगातार तेजी से बढ़ रहे है। पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में भी कोरोना ने कोहराम मचाकर रखा है। सबसे बुरी हालत राजधानी लखनऊ की है। इस बीच कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर खराब व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया तो लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है।

यूपी सरकार में कानून मंत्री बृजेश पाठक ने लिखा है कि प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना की जांच बंद हो गई है, जो बेहद गलत है। शहर में इस वक्त 17 हजार कोविड जांच किटों की ज़रूरत है, लेकिन 10 हज़ार ही मिल रही हैं।

बृजेश पाठक ने ये चिट्ठी राज्य के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव, अपर मुख्य स्वास्थ्य सचिव को लिखी है। मंत्री का कहना है कि लोग लगातार मदद के लिए फोन कर रहे हैं, लेकिन सुविधा नहीं हैं इसलिए मदद भी नहीं हो पा रही है।

इतना ही नहीं, मंत्री ने शिकायत की है कि स्वास्थ्य अधिकारी के दफ्तर में फोन नहीं उठाया जाता है, जिसके कारण दिक्कतें हो रही हैं। मंत्री ने अपनी चिट्ठी में अपील की है कि अस्पतालों में बेड्स की संख्या तुरंत बढ़ाई जाए, टेस्टिंग पर भी ज़ोर दिया जाए।

लखनऊ में कोरोना का हाल

  • कुल केस की संख्या: 1,11286
  • एक्टिव केस की संख्या: 23,090
  • अबतक हुई मौतें: 1353
 

From around the web