Uttrakhandpost 12 banner 1
Utkarshexpress 1234 banner 2

15 दिन का लग सकता है लॉकडाउन ! आज प्रदेशवासियों को संबोधित करेंगे मुख्यमंत्री

सूत्रों के मुताबिक आज शाम मुख्यमंत्री सोशल मीडिया को संबोधित कर सकते हैं। इस दौरान कल से अगले 15 दिन तक यानी 30 अप्रैल तक सूबे में लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया जा सकता है।
 
15 दिन का लग सकता है लॉकडाउन ! आज प्रदेशवासियों को संबोधित करेंगे मुख्यमंत्री

मुंबई (उत्तराखंड पोस्ट) देश में एक बार फिर से कोरोना का महाविस्फोट हुआ है। सोमवार को भारत में कोरोना वायरस के करीब 1.60 लाख कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं।

देश में इस वक्त सबसे बुरी हालत महाराष्ट्र की है। महाराष्ट्र में कोरोना ने कोहराम मचा दिया है। सोमवार को कोरोना के महाराष्ट्र में 51,751 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना के चलते 258 लोगों की मौत हुई है।

सूत्रों के मुताबिक आज शाम महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे सोशल मीडिया को संबोधित कर सकते हैं। इस दौरान कल से अगले 15 दिन तक यानी 30 अप्रैल तक सूबे में लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया जा सकता है।

हालांकि इसके लिए एसओपी तैयार की गई है। यह पिछले साल की तरह का लॉकडाउन नहीं होगा। यातायात सेवाएं जारी रहेंगी। निजी दफ्तर बंद रहेंगे। जरूरी सेवाओं वाले संस्थान खुले रहेंगे। स्कूल, कॉलेज, थिएटर, ग्राउंड, पार्क जिम आदि बंद रहेंगे। सूत्रों के मुताबिक यह भी कहा गया है कि रेस्त्रां केवल होम डिलवरी के लिए खुले रहेंगे। पब्लिक आयोजनों पर प्रतिबंध रहेगा। आर्थिक रूप से कमजोर तबके के लिए आर्थिक पैकेज पर काम किया जा रहा है।

वहीं इससे पहले महाराष्ट्र के मंत्री असलम शेख ने संकेत दिया कि कुछ घंटों के भीतर मुंबई और महाराष्ट्र में नए सख्त दिशानिर्देश लागू किए जाएंगे। असलम शेख ने कहा कि कोरोना पर अंकुश लगाने के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा कई कदम उठाए गए हैं, लेकिन केस कम नहीं हो रहे हैं, इसलिए अधिक सख्त दिशा-निर्देश लागू किए जाएंगे, नए एसओपी जारी होंगे।

वहीं लॉकडाउन की आहट को देखते हुए मुंबई में राशन की दुकानों के बाहर लम्बी कतारें देखने को मिल रही हैं। लॉकडाउन के खतरे को देखते हुए लोगों ने यहां राशन जुटाना शुरू कर दिया है। लोगों का कहना है कि हम ऐसी किसी भी स्थिति में नहीं अटकना चाहते हैं जिसमें हमारे पास राशन की कमी आ जाए।

लॉकडउन की आहट के बाद बड़ी संख्या में प्रवासी कामगार महाराष्ट्र से पलायन कर रहे हैं। ज्यादातरों को काम मिलना बंद हो चुका है। ये हाल तब है, जब अभी सिर्फ वीकेंड लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू और प्रतिबंध ही लगे हुए हैं। संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान नहीं हुआ है।

From around the web