बच्चे को बचाने में कुंए में गिरे 30 से ज्यादा लोग, 4 की मौत, रेस्क्यू जारी

मध्य प्रदेश से एक बड़े हादसे की खबर सामने आयी है। विदिशा के गंजबसौदा में बच्चे को बचाने में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिर गए थे। पूरी रात घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। अभी तक कुएं से चार लोगों के शव निकाले गए हैं। वहीं, 10 लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। भोपाल से भी एसडीआरएफ की टीम भेजी गई है।
 
0000

विदिशा (उत्तराखंड पोस्ट) मध्य प्रदेश से एक बड़े हादसे की खबर सामने आयी है। विदिशा के गंजबसौदा में बच्चे को बचाने में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिर गए थे। पूरी रात घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। अभी तक कुएं से चार लोगों के शव निकाले गए हैं। वहीं, 10 लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। भोपाल से भी एसडीआरएफ की टीम भेजी गई है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं। एमपी सरकार ने मृतकों को पांच लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। दरअसल, गुरुवार की शाम छह बजे गांव का एक बच्चा कुएं में गिर गया था। इसके बाद गांव के लोग कुएं पास जमा हुए। भीड़ ज्यादा होने की वजह से कुएं का मुंडेर धंस गया। इसके बाद एक-एक कर कुएं में तीस से ज्यादा लोग गिर गए। फिर गांव में कोहराम मच गया।

हादसे की सूचना मिलते ही अधिकारी गांव की तरफ कूच कर गए। इसके बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। रात होने की वजह से इसमें भी दिक्कत आ रही थी। रात 10 बजे भोपाल से एसडीआरएफ की टीम पहुंची। फिर बड़े पैमाने पर रेस्क्यू शुरू किया गया। कुएं से पानी निकालने के आए ट्रैक्टर भी कुएं में जा गिरा। इसके बाद मुश्किलें और बढ़ गई। इसके बाद पोकलेन से कुएं की दीवार तोड़ी गई। फिर कुएं से पानी निकाला गया। तब तक कुएं में गिरे लोग मलबे में दब चुके थे। ऑपरेशन के दौरान होमगार्ड के तीन जवान भी कुएं में गिर गए।

घटना स्थल फिर से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। प्रशासन ने कुएं से अभी 19 लोगों को कुएं से निकाला है। एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंच गई। सीएम शिवराज सिंह चौहान अपनी दत्तक पुत्रियों की शादी के लिए विदिशा में ही थे। सरकार की तरफ से निर्णय लिया है कि मृतकों के परिवारजनों को 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता घायलों को 50 हज़ार रुपये एवं निशुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी।

From around the web