दिल्ली में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, एक हफ्ते के लिए स्कूल बंद, कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होम

 दिल्ली सरकार एक बार फिर एक्शन मोड में गई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर से दिल्ली में कई पाबंदियां लगाई है।
 
Arvind
 

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट ) राजधानी दिल्ली में प्रदूषण से हालत खराब होते जा रहे हैं। शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कई बड़े फैसले लिए। उन्होंने एक आपात बैठक बुलाई थी जिसमें निर्णय लिया गया कि सोमवार से दिल्ली के सभी स्कूल एक हफ्ते के लिए बंद रहेंगे।

ताकि सभी सुरक्षित और स्वस्थ्य रहें। इस बैठक में सरकार ने सभी सरकारी ऑफिस के कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम का फैसला लिया है। साथ ही 14 से 17 नवंबर तक निर्माण कार्य पर भी रोक रहेगी।

अरविंद केजरीवाल ने बताया कि प्राइवेट कंपनियों के लिए भी एडवाइजरी जारी की गई है कि वह ज्यादा-से-ज्यादा कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम भेजने का सुझाव दे सकते हैं। इससे कम से कम लोग ही बाहर निकलेंगे, ताकि सड़कों पर भीड़ कम हो सके। 

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के कारण खराब होते हालात के कारण सुबह सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई थी जिसका असर शाम होते दिखने लगा। दिल्ली सरकार ने कोर्ट की टिप्पणी के बाद तुरंत इमरजेंसी मीटिंग बुलाई जिसमें हालात को सामन्य करने के लिए सख्त रुख अपनाने का आदेश दिया गया है।दिल्ली में दीपावली के बाद वायु प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा था जिसके कारण यहां एक्यूआइ लगभग 500 के आसपास बना हुआ है। स्थिति खराब होने के कारण यहां के हालात को हेल्थ इमरजेंसी जैसी संज्ञा दी गई।

From around the web