तीन सगी बहनों ने ट्रेन के सामने कूदकर दी जान, परिवार में कोहराम

 
Dead Body
 

जौनपुर (उत्तराखंड पोस्ट) यूपी के जौनपुर में शुक्रवार को तीन सगी बहनों ने ट्रेन के सामने कूदकर खुदकुशी कर ली. हादसे की सूचना पर जीआरपी मौके पर पहुंच गई है।

घटना बदलापुर क्षेत्र फत्तूपुर गांव की है। मिली जानकारी के मुताबिक आशा देवी अपनी तीन पुत्रियों 18 वर्षीय काजल, 16 वर्षीय प्रीति, 15 वर्षीय आरती व इकलौते 17 वर्षीय पुत्र गणेश के साथ रहती थीं।

बताया जा रहा है कि  गुरुवार की रात को किसी बात पर मां- बेटियों में तकरार हो गई। इससे क्षुब्ध तीनों बहनें चुपके से घर से पैदल गांव से गुजरी नहर मार्ग से बदलापुर की तरफ चल पड़ीं और फत्तूपुर में ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर लीं।

ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि बच्चियों के पिता की 9 साल पहले मौत हो चुकी है और उनकी मां आशा देवी दोनों आंखों से देख नहीं सकती है. वहीं घर में बेटे के अलावा कोई और कमाने वाले नहीं है. परिवार पूरी तरह से गरीबी से लड़ रहा है। पुलिस ने  शवों को कब्जे लेकर मामले की छानबीन में जुट गई है । पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. घटना के बाद मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है.

From around the web