हरिद्वार कुंभ | आस्था पर भारी कोरोना, राम नवमी स्नान पर सूने पड़े हैं गंगा घाट

आपको बता दें कि बिना पंजीकरण और कोरोना की आरटीपीसीआर निगेटिव जांच रिपोर्ट वाले श्रद्धालुओं को कुंभ मेला क्षेत्र में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। साथ ही अधिक से अधिक संख्या में यात्रियों की रैंडम कोविड जांच की जा रहा है।
 
हरिद्वार कुंभ | आस्था पर भारी कोरोना, राम नवमी स्नान पर सूने पड़े हैं गंगा घाट

हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) देश के साथ ही उत्तराखंड में बढ़ते कोरोना के कहर के बीच इसका सीधा असर हरिद्वार में देखने को मिल रहा है। महाकुंभ में रामनवमी पर्व का आज स्नान है लेकिन हरिद्वार में अधिकतर गंगा घाट खाली हैं। बहुत कम संख्या में श्रद्धालु गंगा स्नान के लिए पहुंचे हैं।

आपको बता दें कि बिना पंजीकरण और कोरोना की आरटीपीसीआर निगेटिव जांच रिपोर्ट वाले श्रद्धालुओं को कुंभ मेला क्षेत्र में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। साथ ही अधिक से अधिक संख्या में यात्रियों की रैंडम कोविड जांच की जा रहा है।

मेला प्रशासन और पुलिस ने स्थानीय लोगों से अपने घरों के आसपास के घाटों पर गंगा स्नान की अपील की है। साथ ही राज्य सीमा और मेला क्षेत्र में यात्रियों की जांच के लिए 70 टीमें लगाई गई हैं। गंगा घाटों पर भी कोरोना के रैंडम एंटीजन जांच के लिए केंद्र बनाए गए हैं।

रामनवमी पर श्रीराम का जन्म कर्क लग्न में हुआ था। लिहाजा आज कर्क लग्न में स्नान शुभ और फलदायक होता है। दोपहर 12.20 से 13.58 बजे तक अमृत की होरा में स्नान का मुहूर्त है। आज सुबह 6.15 से रात 8.00 बजे तक स्नान शुभ है। 

From around the web