सल्ट विधानसभा  उपचुनाव | पहली बार ऐसे वोट देंगे मतदाता, जानिए क्या-क्या बदलाव हुए

उत्तराखंड में सल्ट विधानसभा उपचुनाव के लिए तैयारियां चल रही है। BJP जहां अपने उम्मीदवार का ऐलान कर चुकी है तो वहीं कांग्रेस ने अभी तक अपने उम्मीदवार का ऐलान नही किया है।
 
सल्ट विधानसभा उपचुनाव | पहली बार ऐसे वोट देंगे मतदाता, जानिए क्या-क्या बदलाव हुए

अल्मोड़ा (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में सल्ट विधानसभा उपचुनाव के लिए तैयारियां चल रही है। BJP जहां अपने उम्मीदवार का ऐलान कर चुकी है तो वहीं कांग्रेस ने अभी तक अपने उम्मीदवार का ऐलान नही किया है।

अब बड़ा अपडेट सामने आया है, सल्ट उपचुनाव में मतदाता ग्लव्स पहनकर वोटिंग करेंगे। आपको बता दें कि पहली बार ऐसा होगा कि चुनाव में मतदाताओं को वोटिंग और रजिस्टर पर हस्ताक्षर करने से पहले हाथों में दस्ताने पहनने होंगे। निर्वाचन आयोग ने यह प्रावधान कोविड-19 महामारी के संक्रमण से रोकथाम करने के उद्देश्य से किया है।

बता दें कि विधायक सुरेंद्र सिंह जीना के निधन से खाली हुई सल्ट विधानसभा के उपचुनाव के लिए 17 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। चुनाव के लिए नामांकन भरने की प्रक्रिया आरंभ हो गई है जो 30 मार्च तक चलेगी। 31 मार्च को नामांकन पत्रों की जांच होगी और तीन अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 

सल्ट विधानसभा में 1000 मतदाता वाले 15 बूथ हैं। जिन बूथों में एक हजार से अधिक मतदाता हैं, उन्हें दो बूथों में बदला गया है। 2017 के विधानसभा चुनाव में बूथों की संख्या 136 थी, जिसे बढ़ाकर 151 किया गया है। इसके अलावा वोटिंग का समय भी एक घंटा बढ़ाया गया है। उपचुनाव के लिए सुबह आठ बजे के स्थान पर सुबह सात बजे से वोटिंग होगी जो शाम पांच बजे तक जारी रहेगी।

जब मतदाता पोलिंग बूथ में प्रवेश करेगा तो उंगली पर स्याही लगाने के बाद उसे ग्लव्स दिए जाएंगे। ग्लव्स पहनकर वह रजिस्टर पर हस्ताक्षर करेगा और इसके बाद ग्लव्स पहनकर ही वह ईवीएम का बटन दबाएगा। इसके बाद ग्लव्स डिस्पोज कर दिया जाएगा। उत्तराखंड में किसी विधानसभा के वोटर पहली बार ग्लव्स पहनकर पहली बार मतदान करेंगे।

From around the web