उत्तराखंड | 12 मई को होनी थी पिंकी की शादी, डोली की जगह अर्थी में हुई विदाई

  1. Home
  2. Uttarakhand
  3. Chamoli

उत्तराखंड | 12 मई को होनी थी पिंकी की शादी, डोली की जगह अर्थी में हुई विदाई

ddd

चमोली जनपद के देवाल विकासखंड के वाक गांव में एक ही परिवार के पांच व्यक्तियों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत से शादी की खुशियां मातम में बदल गई । 12 मई को हादसे में शिकार हुई पिंकी राणा की शादी होनी थी। यहां से बेटी की डोली विदा होनी थी अब उसी घर से बेटी की अर्थी जा रही है।


 

चमोली (उत्तराखंड पोस्ट)  चमोली जनपद के देवाल विकासखंड के वाक गांव में एक ही परिवार के पांच व्यक्तियों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत से शादी की खुशियां मातम में बदल गई । 12 मई को हादसे में शिकार हुई पिंकी राणा की शादी होनी थी। यहां से बेटी की डोली विदा होनी थी अब उसी घर से बेटी की अर्थी जा रही है।

 

 

जानकारी के मुताबिक 2  मई को पिंकी मेरठ अपने मामा के घर भाई संजू सिंह के साथ शादी की खरीददारी के लिए गई थी। भाई अपनी बहन को मेरठ छोड़कर वापस घर आकर शादी की तैयारियों में जुट गया था।

 

12 मई को पिंकी की शादी खुशहाल सिंह पुत्र गोपाल सिंह निवासी कोटग्वाड़ किमनी, थराली से होनी थी। शादी के लिए सभी रिश्तेदारों और जानने वालों को न्योजा भेज दिया था। कई रिश्तेदार गांव पहुंचने शुरू हो गए थे, लेकिन शादी से पहले हादसे ने सारी खुशियां मातम में बदल दी।

 

पिंकी के मामा प्रताप सिंह पत्नी भागीरथी देवी, पुत्र विजय व पुत्री मंजू को अपने वाहन से शादी में शामिल होने के लिए शनिवार मेरठ से निजी वाहन से वाक गांव के लिए रवाना हुए थे। रविवार सुबह देवप्रयाग मार्ग पर तोता घाटी के पास वाहन दुर्घटनाग्रस्त होने से इनमें सभी की मौत हो गई। इसकी सूचना मिलते ही गांव में मातम छा गया। दुर्घटना का शिकार हुई पिंकी के पिता त्रिलोक सिंह राणा व माता हरकी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। बेटी सहित अपने भाई के परिवार को खोने के बाद पिंकी की मां गहरे सदमे में है।