बड़ी खबर | 2 अक्टूबर को बदरीनाथ धाम बंद रखने का ऐलान, ये है वजह

बदरीनाथ से बड़ी खबर है । बद्रीश संघर्ष समिति ने ई-पास के विरोध में 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के दिन  पूरा बाजार बंद रखने का ऐलान किया है। 
 
Badrinath
 

चमोली (उत्तराखंड पोस्ट) बदरीनाथ से बड़ी खबर है । बद्रीश संघर्ष समिति ने ई-पास के विरोध में 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के दिन  पूरा बाजार बंद रखने का ऐलान किया है।

बता दें कि श्रद्धालुओं का चारों धामों में आने का सिलसिला जारी है लेकिन सीमित संख्या होने और ई-पास ना मिलने के कारण लोग परेशान हो रहे हैं। वहीं इससे चारोंधामों के व्यावसायी, होटल व्यवसायी नाराज हैं। क्योंकि होटलों की बुकिंग हो रखी है और लोग कम पहुंच रहे हैं जिस कारण बुकिंग कैंसिल हो रही है और उनके आगे आर्थिक संकट खड़ा हो रहा है।

संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने बताया कि इस पर समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने कहा कि चार माह बाद सरकार ने यात्रा शुरू की, लेकिन ई-पास की अनिर्वायता ने यात्रा को फीका कर दिया है। बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने में अक्तूबर का ही महीना बचा है। ऐसे में स्थानीय व्यापारी और लोग परेशान हैं।

 ई-पास की व्यवस्था के कारण श्रद्धालु निर्धारित संख्या में भी बदरीनाथ नहीं पहुंच पा रहे हैं। महज 200-300 लोग की दर्शन कर पा रहे हैं। जबकि करीब 600 से अधिक दर्शनार्थी वापस लौट रहे हैं।

संघर्ष समिति ने दो अक्टूबर को पुरी क्षेत्र में प्रतिष्ठान बंद रखने का निर्णय लिया है। इस दिन समिति के बैनर पर ई-पास के विरोध में होटल, लॉज, व्यापारिक प्रतिष्ठान के बंद के साथ ही जुलूस प्रदर्शन भी किया जाएगा। उन्होंने सरकार से ई-पास की व्यवस्था को पूरी तरह से हटाने की मांग की है

From around the web