चंपावत उपचुनाव में धामी और गहतोड़ी के बीच टक्कर, जानिए उनके बारे में सब कुछ

  1. Home
  2. Uttarakhand
  3. Champawat

चंपावत उपचुनाव में धामी और गहतोड़ी के बीच टक्कर, जानिए उनके बारे में सब कुछ

Congress

चंपावत विधानसभा सीट पर उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। 31 मई को मतदान होना है तो 3 जून को मतगणना होगी। खटीमा से चुनाव हारने के बाद भी बीजेपी ने पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाया है तो अब धामी चंपावत विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं। धामी को मुख्यमंत्री बने रहने के लिए ये चुनाव जीतना जरुरी है।


देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) चंपावत विधानसभा सीट पर उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। 31 मई को मतदान होना है तो 3 जून को मतगणना होगी। खटीमा से चुनाव हारने के बाद भी बीजेपी ने पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाया है तो अब धामी चंपावत विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं। धामी को मुख्यमंत्री बने रहने के लिए ये चुनाव जीतना जरुरी है।

वहीं कांग्रेस इस चुनाव में धामी को कड़ी चुनौती देने की बात शुरुआत कर रही है। इस बीच एक बड़ी खबर मिली है। कांग्रेस ने चंपावत उपचुनाव के लिए अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। कांग्रेस ने चंपावत उपचुनाव के लिए सीएम धामी को चुनौती देने के लिए मैदान में निर्मला गहतोड़ी को अपना उम्मीदवार बनाया है।

निर्मला गहतोड़ी दो बार चम्पावत कांग्रेस जिलाध्यक्ष और हरीश रावत सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रही हैं। वे एक सक्रिय नेता के तौर पर कांग्रेस से लगातार जुड़ी रही हैं और उनकी गिनती कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में होती हैं। प्रत्याशी के तौर पर कांग्रेस की तरफ से निर्णय लेने के बाद निर्मला ने आभार जताया है। उनका कहना है कि उपचुनाव के दौरान मुद्दों के आधार पर सीएम के खिलाफ वे मजबूती से चुनाव लड़ेंगी।

हरीश रावत ने ट्वीट करते हुए कहा कांग्रेस  की वरिष्ठ नेता, पूर्व जिला अध्यक्ष एवं पूर्व राज्यमंत्री निर्मला गहतोड़ी जी को विधानसभा चंपावत क्षेत्र से विधानसभा उप चुनाव हेतु उम्मीदवार बनाए जाने पर बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं।

आपको बता दें कि चंपावत विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी 9 मई को नामांकन करेंगे। बता दें कि चंपावत सीट पर कांग्रेस से हिमेश खर्कवाल कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ते आए हैं। 2022 का चुनाव भी उन्होंने लड़ा है लेकिन बीजेपी के कैलाश गहतोड़ी से चुनाव हार गए थे।