उत्तराखंड के युवक की चेन्नई में मौत, शव लेने गया भाई भी लापता

 
crime
 

चंपावत (उत्तराखंड पोस्ट ) चंपावत के युवक की चेन्नई में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। इससे मृतक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है। शव लेने गया भाई भी तमिलनाडु के निगलपट्टी जिले के थाने से चार दिन से संदिग्ध परिस्थितियों में लापता है।

 मृतक और लापता युवक के सबसे बड़े भाई ने सोशल मीडिया के जरिए से सीएम पुष्कर धामी, पूर्व सीएम हरीश रावत, जागेश्वर विधायक गोविंद कुंजवाल से मदद मांगी है। मामला डीजीपी अशोक कुमार, डीआईजी कुमाऊं नीलेश आनंद, एसपी चंपावत तक पहुंच गया है।

चंपावत एसपी ने जानकारी देते हुए बताया कि युवक की मौत हादसे में हुई है, उसका सीसीटीवी फुटेज वहां के पुलिस अधिकारी ने भेजा है। वहीं शव लेने गया भाई चार दिन से लापता है। गुरुग्राम में नौकरी कर रहे सबसे बड़े भाई ने वहां जाने खुद की जान को खतरा बताया है। साथ ही शव दिलाने और दूसरे भाई का पता लगाने की गुहार लगाई है।

मिली जानकारी के अनुसार चंपावत के पाटी ब्लॉक अंतर्गत देवीधुरा क्षेत्र के बनोली निवासी पानदेव शर्मा के अनुसार उसका छोटा भाई प्रमोद चंद्र शर्मा तमिलनाडु में नौकरी करता था, जो 23 अक्टूबर को एसआरएम हॉस्पिटल में भर्ती था। परवीन नामक महिला ने 26 अक्टूबर को बताया कि उसकी मौत हो गई है। महिला के साथ आर्यन नामक कोई व्यक्ति भी था। उसके बाद पानदेव ने सबसे छोटे भाई विपिन शर्मा को यहां से देखरेख के लिए भेजा। 26 अक्चूबर को फोन आया कि उनके भाई की मौत हो गई

27 अक्टूबर को 6:30 बजे से विपिन से संपर्क नहीं हो पाया। आशंका जताई कि प्रमोद के साथ अनहोनी हुई है और विपिन का मोबाइल स्विच ऑफ आ रहा है। पानदेव ने भाई प्रमोद की मौत के कारणों का पता लगाने व महिला का पता लगाकर उसके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की गुहार लगाई है। साथ ही गायब विपिन का भी पता लगाकर सहायता करने की अपील की है।

From around the web