हल्द्वानी | पति ने पत्नी की गला घोटकर की हत्या, बताई ये वजह

  1. Home
  2. Uttarakhand
  3. Nainital

हल्द्वानी | पति ने पत्नी की गला घोटकर की हत्या, बताई ये वजह

murder

हल्द्वानी में कालाढूंगी थाना अंतर्गत बैलपडाव क्षेत्र में हुई विवाहिता की हत्या का पुलिस ने 12 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया। इस मामले में महिला का पति ही मुल्जिम निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पकड़ा गया आरोपी युवती के मामा का बेटा था।


 

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) हल्द्वानी में कालाढूंगी थाना अंतर्गत बैलपडाव क्षेत्र में हुई विवाहिता की हत्या का पुलिस ने 12 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया। इस मामले में महिला का पति ही मुल्जिम निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पकड़ा गया आरोपी युवती के मामा का बेटा था।

 

 

 बुधवार को सुबह तडके तीन बजे के पास बैलपडाव चौकी में फोन आया कि रामनगर वन प्रभाग के बैलपडाव रेंज के अतंर्गत जगंल में लूनीयागाजां खत्ता में आमना उम्र 18 वर्ष तीन माह पुत्री गुलाम नवी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी है। लडकी का शव घर के पीछे पराली के ढेर में मिला।

सूचना पर बुधवार सुबह को मौके पर सीओ बलजीत भाकुनी व थानाध्यक्ष राजवीर सिंह नेगी मौके पर पहुंच कर घटनास्थल का निरीक्षण किया। तहरीर के अधार पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने आमना के पति रियासत व परिजनों से पूछताछ की।

एसपी क्राइम जगदीश चंद्र ने हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि आमना के पति से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि डेढ़ साल पहले उसका निकाह आमना से हुआ था पर गौना नही हुआ था। ऐसे में युवती अपने मायके में ही रह रही थी। कुछ माह पहले धान की पराली एकत्रीत करने यहां आया और अपने मामा हनीफ व यामीन के यहां रहने लगा। तो पता चला की आमना का अपने ताऊ के लड़के अयूब के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा है।

 

एक दिन मैंने दोनों को बिस्तर पर रंगे हाथ पकड लिया। उस दिन से आमना के खिलाफ नफरत पैदा हो गयी। मंगलवार की रात को व्हाटसएप पर चैट करते हुए घर से बाहर बुला लिया। अयूब के साथ चल रहे प्रेम प्रसंग पर पूछने पर हम दोंनो मे झडप हो गयी। जिस पर पास पडे चुन्नी से पीछे से उसका गला घोंट मार दिया व उसका शव उसके घर के पीछे पराली की ढेर पर रख कर सो गया। थोडी देर में आमना के घर से फोन आया की आमना को कुछ हो गया है।

मामा व मामी साथ मैं भी पराली के पास गया व इस बात की भनक किसी को भी नही लगने दी। किसी को शक न हो इसलिए रियासत ने आमना व अपने मोबाईल की चैट भी डिलीट कर दी थी। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त चुन्नी व मोबाईल कब्जे में ले लिया है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल ने हत्या की खुलाया करने वाली टीम को पांच हजार रूपये की धनराशी से पुरूस्कृत किया हैं। टीम में थानाध्यक्ष राजवीर सिंह नेगी,एसआई बीरेन्द्र सिंह बिष्ट,एसआई विजय कुमार,कांस्टेबल लखविन्द्र सिंह,चंद्र प्रकाश,जसवीर सिंह,अशोक कुमार,लेखराज,जगदीश पांडे मौजूद रहे।