हल्द्वानी से बड़ी खबर | 500 बेड का एक और कोविड अस्पताल होगा तैयार, पूरी जानकारी यहां

उत्तराखंड के नैनीताल जिले में हर रोज कोरोना विस्फोट हो रहा है। बुधवार को यहां कोरोना के 665 नए केस मिले है। कोरोना के लगातार बढ़ते अब एक और बड़ा फैसला लिया गया है। हल्द्वानी में पांच सौ बेड का एक और कोविड अस्पताल बनाने की योजना है। यह अस्पताल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से बनेगा।

 
हल्द्वानी से बड़ी खबर | 500 बेड का एक और कोविड अस्पताल होगा तैयार, पूरी जानकारी यहां

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में कोरोन का कहर कम होने का नाम नही ले रहा है। बीते 24 घंटे में उत्तराखंड में कोरोना के 6054 मामले सामने आए। इसी के साथ प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 168616 पहुंच गई है। वहीं 108 संक्रमित मरीजों की मौत हुई।

उत्तराखंड के नैनीताल जिले में हर रोज कोरोना विस्फोट हो रहा है। बुधवार को यहां कोरोना के 665 नए केस मिले है। कोरोना के लगातार बढ़ते अब एक और बड़ा फैसला लिया गया है। हल्द्वानी में पांच सौ बेड का एक और कोविड अस्पताल बनाने की योजना है। यह अस्पताल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से बनेगा।

आपको बता दें कि डीआरडीओ की टीम गुरुवार को सुशीला तिवारी अस्पताल और स्वामी राम कैंसर इंस्टीट्यूट का निरीक्षण करेगी। सुशीला तिवारी अस्पताल में सभी 425 बेड कोविड मरीजों से फुल हो चुके हैं। प्राइवेट अस्पतालों में भी बेड की उपलब्धता नहीं है। एक सप्ताह से प्रशासन के एक आलाधिकारी और डीआरडीओ के बीच पांच सौ बेड के कोविड अस्पताल को लेकर बात चल रही थी। इस कोविड अस्पताल में सभी बेड ऑक्सीजन प्वाइंट से लैस होंगे। फैब्रीकेटेड अस्पताल के निर्माण पर लगभग दस से पंद्रह करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है। गुरुवार को अस्पताल के लिए जमीन का चयन हो जाएगा।

आपको बता दें कि हल्द्वानी के मिनी स्टेडियम में पहले ही ऑक्सीजन युक्त 150 बेड के कोविड केयर सेंटर पर काम चल रहा है।

From around the web