उत्तराखंड | आपसी संघर्ष में पेट फटने से टस्कर हाथी की मौत 

 

कोटद्वार से एक दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। यहां लैंसडौन वन प्रभाग के कोटद्वार रेंज के अंतर्गत दो हाथियों के बीच हुए आपसी संघर्ष में एक टस्कर हाथी की मौत हो गई। 

 
ele

कोटद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) कोटद्वार से एक दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। यहां लैंसडौन वन प्रभाग के कोटद्वार रेंज के अंतर्गत दो हाथियों के बीच हुए आपसी संघर्ष में एक टस्कर हाथी की मौत हो गई। 

घटना लैंसडौन वन प्रभाग के कोटद्वार रेंज की है। मिली जानकारी के मुताबिक लालपानी बीट में मंगलवार शाम दो हाथियों के बीच में आपसी संघर्ष हो गया। संघर्ष के दौरान एक हाथी जमीन पर गिर पड़ा। हाथियों की चिंघाड़ सुन वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचे, जहां उन्हें एक हाथी बुरी तरह घायल हालात में मिला कुछ देर बाद हाथी उठ कर चला गया।

वन विभाग कर्मचारियों के मुताबिक उस घायल हाथी का पीछा किया। जहां वह बहेड़ास्रोत के पास जमीन पर बैठ गया। वन विभाग के अनुसार बुधवार सुबह जब हाथी की स्थिति को देखने टीम वहां पहुंची तो वह जमीन पर पड़ा हुआ था। देखने पर पता चला कि उसकी मौत हो गई है सूचना मिलते ही डीएफओ समेत सभी अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

लैंसडौन वन प्रभाग के डीएफओ दीपक कुमार सिंह ने बताया कि आपसी संघर्ष में एक 45 वर्षीय नर हाथी का पेट फटने के कारण मौत हुई है। पोस्टमार्टम में हाथी के सभी अंग सुरक्षित पाए गए हैं। वन विभाग ने हाथी का पोस्टमार्टम कराकर उसे दफना दिया है

From around the web