कथित स्टिंग पर हरीश रावत ने क्यों कहा- मैं उसका दण्ड भुगतने के लिये तैयार हूं

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) विधायकों की खरीद फरोख्त के कथित स्टिंग पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि वे उसके लिए दंड भुगतने को तैयार हैं, हालांकि हरीश रावत ने ये भी बताया कि कैसे वे एक षडयंत्र का शिकार हुए। नीचे पढ़िए इस स्टिंग पर आखिर हरीश रावत ने क्या कहा- हरीश रावत
 
कथित स्टिंग पर हरीश रावत ने क्यों कहा- मैं उसका दण्ड भुगतने के लिये तैयार हूं

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) विधायकों की खरीद फरोख्त के कथित स्टिंग पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि वे उसके लिए दंड भुगतने को तैयार हैं, हालांकि हरीश रावत ने ये भी बताया कि कैसे वे एक षडयंत्र का शिकार हुए।

नीचे पढ़िए इस स्टिंग पर आखिर हरीश रावत ने क्या कहा-

हरीश रावत अपने फेसबुक पेज पर लिखते हैं कि उत्तराखण्ड के लोग स्वभावतः दूसरे पे विश्वास करते हैं, व्यक्ति का आदर करते हैं, जो मेरा तथाकथित स्टिंग है, वो एक उत्तराखण्डी की स्वभावगत कमजोरी का षड्यंत्रपूर्ण तरीके से उठाये गये फायदे का निष्कर्ष हो, मैं उसका दण्ड भुगतने के लिये तैयार हूँ और ऐसी ही कोशिशें, कई अन्य लोगों के साथ भी हुई हैं और उत्तराखण्ड में कुछ लोग स्टिंगबाजी को राजनैतिक अस्त्र बना लेना चाहते हैं।

रावत ने आगे लिखा कि मेरी लड़ाई आज नैनीताल के कोर्ट में केवल इस बात की नहीं है कि, सी.बी.आई. को मेरे ऊपर वाद दर्ज करने का अधिकार है या नहीं है, लड़ाई इस बात की भी है कि, उत्तराखण्डी स्वभावगत, सरलता, क्या इसी तरीके से शोषित की जायेगी और उसका अपमान किया जायेगा, इसलिये मैंने निश्चय किया है कि, परिणाम कुछ हों, मगर इस दुष्संस्कृति के खिलाफ जिसका मैं शिकार हुआ हूँ, मैं लोगों तक अपनी लड़ाई को लेकर के जाऊंगा।

कथित स्टिंग पर हरीश रावत ने क्यों कहा- मैं उसका दण्ड भुगतने के लिये तैयार हूं

पूर्व सीएम आगे लिखते हैं कि उत्तराखण्ड कई तरीके की बुराईयों का शिकार हो रहा है, उनमें से एक यह भी बुराई है, जो यहां की राजनीति को कभी स्थिर नहीं होने देती। कीमत, उत्तराखण्ड का आम आदमी चुकाता है और लाभ कुछ और लोग उठाकर के ले जाते हैं, जो यहां खाली ट्रंक लेकर के आते हैं और वो यहां से करोड़ों की सम्पति बनाकर, हमारे ऊपर ही डांटने का काम करते हैं। आप देहरादून में देखिये, ऐसे कई लोग हैं, जो राज्य बनने के बाद यहां आये, अच्छा है, यहां के विकास में सहयोग करें, मगर यहां की संस्कृति को यदि अभरन्स करने की कोशिश करेंगे, तो उसके खिलाफ आवाज उठनी चाहिये, सवाल हरीश रावत का नहीं है, ये उत्तराखण्ड के भविष्य को बचाने का भी सवाल है।

उत्तराखंड | CBI की दो बातों से डरे पूर्व सीएम हरीश रावत, जताया गिरफ्तारी का डर!

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost

From around the web