डेंगू की रोकथाम और नियंत्रण को मुख्य सचिव ने की बैठक, दिए ये निर्देश

मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में गुरूवार को सचिवालय में डेंगू रोग की प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण के सम्बन्ध में बैठक संपन्न हुई। बैठक में डेंगू की प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण हेतु सभी सम्बन्धित विभागों ने प्रतिभाग किया।
 
0000

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में गुरूवार को सचिवालय में डेंगू रोग की प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण के सम्बन्ध में बैठक संपन्न हुई। बैठक में डेंगू की प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण हेतु सभी सम्बन्धित विभागों ने प्रतिभाग किया।

मुख्य सचिव ने कहा कि डेंगू फैलने का मुख्य कारण इसके प्रति आमजन में जानकारी और जागरूकता की कमी है। इसके लिए आमजन को घरों के भीतर कूलर और पुराने बर्तनों, टायरों आदि में पानी जमा न होने देने के लिए प्रेरित करना होगा, और इसके लिए सभी विभागों को अपने-अपने स्तर से डेंगू की रोकथाम के लिए महत्त्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी।

मुख्य सचिव ने सभी सम्बन्धित विभागों को निर्देश दिए कि डेंगू की रोकथाम हेतु अभी से सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि डेंगू की रोकथाम हेतु नियमित रूप से स्वच्छता अभियान चलाए जाएं।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत स्कूलों द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई संचालित की जा रही है। यह ऑनलाइन पढ़ाई विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों को जागरूक करने का अच्छा माध्यम बन सकती है। सभी विद्यालयों द्वारा अपने अध्यापकों के माध्यम से डेंगू की रोकथाम के प्रति संदेश देने का प्रयास किया जाना चाहिए। बच्चों में जागरूकता फैलाने से ज्यादा अच्छे परिणाम मिलेंगे।

उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थाओं के खुलने की परिस्थिति में काफी समय से बन्द पड़े स्कूलों में डेंगू के मच्छर पनपने की अत्यधिक सम्भावना को देखते हुए स्कूल खुलने से पहले सफाई अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि डेंगू की रोकथाम हेतु दिशा-निर्देशों का पूर्णतः पालन सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है।

मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि पार्षदों एवं मोहल्ला समितियों की सहायता से जागरूकता अभियान चलाए जाएं। कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर का अनुपालन करते हुए इसके लिए सम्भावित क्षेत्रों में विशेष जागरूकता अभियान चलाए जाएं। सप्ताह में एक दिन सुनिश्चित कर प्रत्येक सप्ताह सफाई और जागरूकता अभियान संचालित करते हुए आमजन को भी अपने घर में प्रत्येक सप्ताह सफाई अभियान चलाए जाने के लिए प्रेरित किया जाए। कोविड के कारण बंद पड़े होटल और रिजर्ट्स के स्वीमिंग पूल और फव्वारे आदि के खाली कराए जाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होटल-रिजॉर्ट्स के भरे हुए स्वीमिंग पूल और फव्वारे बंद पड़े होने के कारण मच्छरों के पनपने का स्रोत हो सकते हैं।

मुख्य सचिव ने सूचना विभाग को डेंगू की रोकथाम और नियंत्रण हेतु स्वास्थ्य विभाग से समन्वय बनाकर आमजन में जागरूकता फैलाने हेतु निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लोकल चैनलों के माध्यम से जागरूकता मैसेज प्रसारित किए जाएं। इसके साथ ही, रेडियो, समाचार पत्र, बल्क मैसेज आदि के माध्यम से आमजन को डेंगू की रोकथाम में अपनी भागीदारी निभाने हेतु जागरूक किया जाए। उन्होंने पंचायतीराज, ग्रामीण विकास एवं शहरी विकास विभाग को भी स्वच्छता हेतु जारी दिशा निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सचिव अमित नेगी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि डेंगू की रोकथाम हेतु सभी प्रकार की तैयारियां अभी से सुनिश्चित कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि लगातार इसकी मॉनिटरिंग भी की जाए। शहरी विकास को नालों की सफाई हेतु निर्देश देते हुए कहा कि इसकी लगातार मॉनिटरिंग की जाए।

From around the web