24 घंटे में धामी ने पूरा किया अपना वादा, जारी हुआ शासनादेश

उत्तराखंड से बड़ी खबर मिली है। CM धामी की एक और घोषणा का आदेश जारी हो गया है। आपको बता दें सीएम धामी ने उत्तराखंड बोर्ड के 10 और 12वीं के छात्र-छात्राओं को टैबलेट देने की घोषणा की थी। अब उत्तराखंड बोर्ड के 10 और 12वीं के छात्र-छात्राओं को टैबलेट के लिए पैसे दिए जाएंगे।
 
2154



देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट)
उत्तराखंड से बड़ी खबर मिली है। CM धामी की एक और घोषणा का आदेश जारी हो गया है। आपको बता दें सीएम धामी ने उत्तराखंड बोर्ड के 10 और 12वीं के छात्र-छात्राओं को टैबलेट देने की घोषणा की थी। अब उत्तराखंड बोर्ड के 10 और 12वीं के छात्र-छात्राओं को टैबलेट के लिए पैसे दिए जाएंगे।

शिक्षा महानिदेशालय ने इस संबंध में समस्त मुख्य शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी कर स्कूल, ब्लॉक और बच्चों के अकाउंट नंबर मांगे गए हैं। शिक्षा महानिदेशक बंशीधर तिवारी ने कहा कि माध्यमिक शिक्षा के एक लाख 59 हजार छात्र-छात्राओं के खातों में इसके लिए धनराशि आएगी। टैबलेट खरीद के लिए सरकार की ओर से शासन और निदेशालय स्तर पर कुछ अधिकारियों की कमेटी गठित की गई थी। निर्णय लिया गया था कि यह कमेटी माध्यमिक और उच्च शिक्षा के छात्र-छात्राओं के लिए टेबलेट खरीदेगी।

शासन और निदेशालय स्तर के अधिकारियों की इस कमेटी की ओर से इसके लिए टेंडर भी निकाले गए थे। कुछ फर्मों ने इसके लिए टेंडर भरा, लेकिन अब सरकार की ओर से निर्णय लिया गया है कि छात्र-छात्राओं को टैबलेट खरीदकर दिए जाने के बजाए डीबीटी के माध्यम से उनको इसका पैसा दिया जाएगा। सोमवार को शिक्षा महानिदेशक की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि समस्त मुख्य शिक्षा अधिकारी इसके लिए तय प्रारूप के अनुसार सूचना एकत्र कर ईमेल या व्हाट्सएप के माध्यम से उपलब्ध कराएं। 

प्रदेश में माध्यमिक के 1.59 और उच्च शिक्षा के एक लाख छात्र-छात्राओं को निशुल्क टैबलेट दिए जाने हैं। योजना में पादर्शिता बनी रहे इसके लिए डीबीटी के माध्यम से छात्रों को टैबलेट का पैसा दिए जाने का निर्णय लिया गया है। कुछ अधिकारियों का कहना है कि इससे योजना में पारदर्शिता बनी रहेगी। वहीं छात्र-छात्राएं सरकार की ओर से मिलने वाली धनराशि पर कुछ और पैसा लगाकर अच्छी गुणवत्ता के टैबलेट खरीद सकेंगे। 

शिक्षा महानिदेशक बंशीधर तिवारी ने कहा कि मुख्य शिक्षा अधिकारियों से छात्रों के एकाउंट नंबर एवं कुछ अन्य जानकारी मांगी गई है। इस संबंध में शासन से गाइड लाइन जारी होते ही छात्रों को टैबलेट के लिए पैसा दिया जाएगा।

From around the web