हरीश रावत ने धामी सरकार पर लगाया बहुत बड़ा आरोप, किया ये बड़ा खुलासा

उत्तराखंड में चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। शनिवार को चुनाव आयोग ने उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान कर दिया है। इसी के साथ उत्तराखंड में आदर्श आचार संहिंता भी लागू हो गयी है।
 
0000



देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट
) उत्तराखंड में चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। शनिवार को चुनाव आयोग ने उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान कर दिया है। इसी के साथ उत्तराखंड में आदर्श आचार संहिंता भी लागू हो गयी है।

आचार संहिंता लागू होने से पहले प्रदेश की धामी सरकार ने आईएएस हरीश चंद्र सेमवाल को आपकारी सचिव के साथ-साथ आबकारी कमिश्नर भी बनाया तो हरीश रावत ने इस फैसले पर सवाल खड़े किए है।

अब हरीश रावत ने एक बड़ा आरोप धामी सरकार पर लगाया है। हरीश रावत ने अपने फेसबुक पेज पर लिखते हुए साफ तौर पर एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि अब रहस्य समझ में आया कि क्यों आबकारी कमिश्नर को हटाया गया? आबकारी कमिश्नर यदि रहते तो सरकार एक ऐसा शासनादेश जिसमें करोड़ों रुपए का खेल हुआ है, नहीं कर पाती। वह शासनादेश आचार संहिता लागू होने के बाद किया गया है, आबकारी विभाग में किया गया है, जिसके जरिए जो उच्च स्पेसिफाइड मदिरा है, उसके विक्रय के लिए कई नियमों को शिथिल करते हुए लोगों को उपकृत किया गया है और सरकार भी उपकृत हुई है।

From around the web