उत्तराखंड | क्या कक्षा 1 से 5वीं तक खुलेंगे स्कूल ? शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान

आपको बता दें कि प्राइवेट स्कूल से जुड़े कई प्रबंधकों की मांग है कि तमाम कक्षाओं को खोल दिया जाए लेकिन सरकार अभी इसके पक्ष में नजर नहीं आ रही है। निजी स्कूलों ने शिक्षा मंत्री को ऑनलाइन पढ़ाई के नुकसान गिनाए। लेकिन कोरोना के कहर को देखते हुए शिक्षा मंत्री गंभीर हैं।
 
School

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) कोरोना की तीसरी लहर के संभावित खतरे के बीच उत्तराखंड में कक्षा एक से 5वीं तक के स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा मंत्री अरविंड पांडे ने बड़ा बयान दिया है।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में निजी स्कूल लगातार मांग कर रहे हैं कि 1 से 5वीं तक की कक्षाएं शुरु की जाएं। ऐसे में शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि अभी छोटे बच्चों के लिए स्कूलों को खोला नहीं जाएगा। सरकार अभी पहली से पांचवी क्लास को खोलने की कोई अनुमति नहीं देने जा रही है।

''

आपको बता दें कि विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर का अलर्ट जारी किया है जो कि सितंबर या अक्टूबर में दस्तक दे सकती है। विशेषज्ञों का कहना है कि तीसरी लहर बच्चों के लिए खतरनाक है। वहीं इस अलर्ट के बीच उत्तराखंड सरकार 1 से 5वीं तक के बच्चों के लिए स्कूल खोलने के पक्ष में नहीं है।

आपको बता दें कि प्राइवेट स्कूल से जुड़े कई प्रबंधकों की मांग है कि तमाम कक्षाओं को खोल दिया जाए लेकिन सरकार अभी इसके पक्ष में नजर नहीं आ रही है। निजी स्कूलों ने शिक्षा मंत्री को ऑनलाइन पढ़ाई के नुकसान गिनाए लेकिन कोरोना के कहर को देखते हुए शिक्षा मंत्री गंभीर हैं।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने इस मामले पर कहा कि बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए अभी स्कूल खोले जाने का कोई फैसला नहीं लिया गया है। साथ ही कहा कि भारत सरकार से जारी गाइडलाइन के बाद ही राज्य का शिक्षा विभाग स्कूल खोले जाने को लेकर कोई आदेश जारी कर सकेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार से अभी तक पहली से पांचवी कक्षा की स्कूलों को खोले जाने का कोई गाइडलाइन जारी नहीं हुई है।

From around the web