उत्तराखंड- युवाओं को मिला बड़ा तोहफा, धामी सरकार ने किया आदेश जारी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा की गई घोषणा के क्रम में सचिव युवा कल्याण एस.ए.मुरूगेशन द्वारा राज्य की प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों विशेषकर युवा वर्ग को स्वस्थ्य रहने हेतु सामुदायिक फिटनेस उपकरण उपलब्ध कराने हेतु “ग्रामीण खेलकूद एवं स्वास्थ्य संवर्द्धन योजना के अन्तर्गत मुख्यमंत्री ग्रामीण युवा स्वास्थ्य संवर्द्धन केन्द्रों की स्थापना एवं संचालन के सम्बन्ध में दिशा-निर्देश जारी कर दिये गये हैं।
 
Dhami


देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा की गई घोषणा के क्रम में सचिव युवा कल्याण एस.ए.मुरूगेशन द्वारा राज्य की प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों विशेषकर युवा वर्ग को स्वस्थ्य रहने हेतु सामुदायिक फिटनेस उपकरण उपलब्ध कराने हेतु “ग्रामीण खेलकूद एवं स्वास्थ्य संवर्द्धन योजना के अन्तर्गत मुख्यमंत्री ग्रामीण युवा स्वास्थ्य संवर्द्धन केन्द्रों की स्थापना एवं संचालन के सम्बन्ध में दिशा-निर्देश जारी कर दिये गये हैं।

मुख्यमंत्री ग्रामीण युवा स्वास्थ्य संवर्द्धन केन्द्रों की स्थापना कार्यक्रम कार्यक्रम का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रवासियों विशेषकर युवाओं को शारीरिक व्यायाम हेतु ग्राम में ही सुविधाएं उपलब्ध कराना है, इसमें प्रधानमंत्री के फिट इंडिया मूवमेंट के संदेश को सुदूर ग्रामीण अंचल कार्यक्रम के घटक तक पहुंचाना है। इस योजना में प्रत्येक ग्राम पंचायत के अंदर किसी भी सार्वजनिक स्थल पर लोगों शारीरिक व्यायाम हेतु ओपन जिम स्थापित किए जाएंगे।

ओपन जिम किसी भी खेल मैदान, ग्राम पंचायत की भूमि विद्यालय अथवा किसी भी सरकारी विभाग की ऐसी भूमि जो सार्वजनिक आवागमन हेतु आसानी से उपलब्ध हो पर स्थापित किए जा सकेंगे। कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग नोडल विभाग होगा।

कार्यक्रम हेतु उपकरणों की व्यवस्था स्थापना एवं अनुरक्षण युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग की “ग्रामीण खेलकूद एवं स्वास्थ्य संवर्द्धन योजना मद से की जाएगी। मुख्यमंत्री युवक मंगल दल एवं महिला मंगल दल स्वावलम्बन योजना के अन्तर्गत मंगल दलों को प्राप्त होने वाली धनराशि का उपयोग भी इसके अन्तर्गत अन्य उपकरण कय करने हेतु किया जा सकेगा।

समस्त जिला युवा कल्याण एवं प्रारद अधिकारी एवं क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रारद अधिकारी कार्यक्रम के प्रभावी पर्यवेक्षण हेतु जिम्मेदार होंगे।

From around the web