मई में कोरोना रहा सबसे घातक, 21 दिन में 83 हजार लोगों की गई जान, संभल कर रहें

देश में कोरोना के मामले अब तेजी से घटने शुरू हो गए हैं। हालांकि कोरोना की थमती रफ्तार के बावजूद मौत का आंकड़ा डराने लगा है।
 
corona



नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट)
देश में कोरोना के मामले अब तेजी से घटने शुरू हो गए हैं। हालांकि कोरोना की थमती रफ्तार के बावजूद मौत का आंकड़ा डराने लगा है।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,5,299 नए मामले सामने आए हैं जबकि 4194 मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। कोरोना के नए मामलों के बाद देश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्‍या 2 करोड़ 62 लाख 89 हजार 290 हो गई है।

मई में कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है। पिछले 21 दिनों में कोरोना से 70 लाख से ज्यादा केस मिले है जबकि पिछले 21 दिनों में 83,135 लोगों की कोरोना (Coronavirus) की चपेट में आने से मौत हो गई।

आपको बता दें  कि अप्रैल में कोरोना के 69.4 लाख केस रिकॉर्ड किए गए थे, जबकि अप्रैल में मौत की संख्या 48,763 थी।

मई में कैसे बढ़े आंकड़े ?

मई के शुरुआती दिनों में रोजाना कोरोना के चार लाख तक नए मामले सामने आए थे। मई में लगभग हर रोज करीब 4000 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, इसमें महाराष्ट्र में हुईं कुछ पुरानी मौतें भी शामिल हैं। हालांकि अब नए मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है। फिर भी नए मरीजों की संख्या हर दिन ढाई लाख के आसपास देखने को मिल रही है।

From around the web