Uttrakhandpost 12 banner 1
Utkarshexpress 1234 banner 2

सनसनीखेज | SHO को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया, भीड़ ने पीट-पीटकर कर दी हत्या

एक सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। भीड़ ने SHO को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया और बंधक बनाकर पीट-पीट कर मार डाला। बता दें कि खबर पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर से है। यहां भीड़ ने बिहार के किशनगंज के टाउन थाने के एसएसओ अश्विनी कुमार की पीट-पीट कर बेरहमी से हत्या  कर दी। बताया जा रहा है कि भीड़ ने एसएसओ और उनकी टीम को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया और बंधक बना लिया, इसके बाद भीड़ ने एसएचओ पर हमला कर दिया।
 
सनसनीखेज | SHO को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया, भीड़ ने पीट-पीटकर कर दी हत्या

उत्तर दिनाजपुर (उत्तराखंड पोस्ट) एक सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। भीड़ ने SHO को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया और बंधक बनाकर पीट-पीट कर मार डाला। बता दें कि खबर पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर से है। यहां भीड़ ने बिहार के किशनगंज के टाउन थाने के एसएसओ अश्विनी कुमार की पीट-पीट कर बेरहमी से हत्या  कर दी। बताया जा रहा है कि भीड़ ने एसएसओ और उनकी टीम को बाइक चोरी करने वाला समझ लिया और बंधक बना लिया, इसके बाद भीड़ ने एसएचओ पर हमला कर दिया।

पांतापाड़ा गांव में हुई मॉब लिंचिंग की इस घटना ने हर तरफ सनसनी मचा दी है। बताया गया कि एसएचओ अश्चिवनी कुमार इलाके में मोटरसाइकिल चोर की सूचना मिलने पर दलबल के साथ रेड करने गए थे। पूर्णिया आईजी सुरेश प्रसाद ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि मोटरसाइकिल चोरी की सूचना मिली थी। उसी को लेकर यहां पर बिहार पुलिस की तरफ से रेड की गई थी। पुलिस टीम की गांव वालों के साथ मारपीट हुई। जिसमें एसएचओ की मौत हो गई  हम लोग इसमें बंगाल पुलिस के साथ मिलकर जांच कर रहे हैं. जो भी दोषी होगा West Bengal)उसको कड़ी से कड़ी सजा दिलाएंगे।

बताया गया कि भीड़ के हमले में एसएचओ अश्विनी कुमार के सिर पर गंभीर चोट लगी, जिसके कारण उनकी मौत हो गई। एसएसओ के अलावा कई अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हैं। भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमला किया। पश्चिम बंगाल पुलिस ने एसएचओ के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए इस्लामपुर के सरकारी अस्पताल में भेज दिया है।

बताया गया कि एसएचओ अश्विनी कुमार पूर्णिया जिले के जानकी नगर थाना इलाके के रहने वाले थे, वह 94 बैच के इंस्पेक्टर थे। उन्होंने एक साल पहले वह किशनगंज में टाउन थाने में तैनात किए गए थे।

From around the web