भगवान जब देता है, छप्पर फाड़ के देता है, मजदूर की लग गई 1 करोड़ की लॉटरी

ऊपर वाला जब देता है तो छप्पर फाड़ के देता है, ये कहावत एक बार फिर चरितार्थ हुई पंजाब के पठानकोट के रहने वाले एक मजदूर के साथ।

 
भगवान जब देता है, छप्पर फाड़ के देता है, मजदूर की लग गई 1 करोड़ की लॉटरी

पठानकोट (उत्तराखंड पोस्ट) ऊपर वाला जब देता है तो छप्पर फाड़ के देता है, ये कहावत एक बार फिर चरितार्थ हुई पंजाब के पठानकोट के रहने वाले एक मजदूर के साथ।

रोजाना मजदूरी करके अपने परिवार को पेट पालने वाले बोधराज ने जिंदगी में पहली बार 100 रुपये की लॉटरी खरीदी और उस लॉटरी के एक टिकट ने उन्हें करोड़पति बना दिया। 

अखरोटा गांव के निवासी 38 साल के बोध राज मजदूरी करते हैं और महीने में बड़ी मुश्किल से सिर्फ 10 हजार रुपये तक कमा पाते हैं। अब बोधराज की एक करोड़ की लाटरी लगी तो उनको यकीन नहीं हो पा रहा है कि उन पर किस्मत इतना मेहरबान हुई है।


पंजाब स्टेट डियर 100 साप्ताहिक लॉटरी (Punjab State Dear 100 Wednesday Weekly Lottery.) में उसका पहला इनाम निकला है, जो कि 1 करोड़ रुपये का है। बोध राज 1 करोड़ रुपये की इनाम की राशि को अपनी दोनों बेटियों के बेहतर भविष्य पर खर्च करना चाहते हैं। वो अपनी बेटियों को अच्छी शिक्षा देना चाहते हैं ताकि वो भविष्य में कुछ अच्छा कर सकें। सरकार के लॉटरी विभाग ने श्रमिक बोध राज के सभी दस्तावेज जमा करा लिए हैं, जल्द ही जीती हुई राशि बोध राज के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।


बोधराज ने बताया कि मेरा दोस्त पठानकोट से पंजाब स्टेट बैसाखी बंपर की टिकट खरीदने गया था, उसने मुझसे भी कहा कि लॉटरी खरीद लूे, मैं अपने पैसे लॉटरी पर उड़ाना नहीं चाहता था, फिर भी मैंने 100 रुपये की लॉटरी खरीद ली लेकिन मुझे नहीं पता था कि किस्मत मेरे लिए इतना बड़ा रास्ता खोल देगी।

From around the web