उत्तराखंड | हरक सिंह रावत मामले में आया नया ट्विस्ट, रात ही रात में कैसे बन गई बात ?

उत्तराखंड में शुक्रवार को धामी कैबिनेट की बैठक में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत नाराज होकर निकल जाने और उनके इस्तीफा देने की खबर आई। साथ ही खबर आई कि बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ ने भी इस्तीफा दे दिया है।
 
DHAMI HARAK



देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट)
उत्तराखंड में शुक्रवार को धामी कैबिनेट की बैठक में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत नाराज होकर निकल जाने और उनके इस्तीफा देने की खबर आई। साथ ही खबर आई कि बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ ने भी इस्तीफा दे दिया है।

अब इसमें नया अपडेट ये है कि बताया जा रहा है कि देर रात को हरक सिंह रावत की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बात हुई और आखिरकार हरक सिंह रावत फिलहाल मान गए हैं। बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ का ये दावा है कि कोटद्वार मेडिकल कॉलेज का प्रस्ताव कैबिनेट में न आने से हरक सिंह रावत नाराज थे लेकिन  रात मे मुख्यमंत्री से हरक सिंह की बात करा कर नाराजगी दूर कर दी। बीजेपी विधायक ने दावा किया कि हरक के इस्तीफे की बात बेबुनियाद है।

शुक्रवार रात को खबर ये थी कि हरक के मुताबिक राज्य सरकार कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज को लटका रही है। हरक ने कहा कि ऐसे स्थिति में काम नहीं कर सकते हैं।

आपको बता दें कि लंबे समय से हरक सिंह रावत कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज की मांग कर रहे थे। उन्होंने कई बार सरकार के सामने ये मुद्दा उठाया था लेकिन क्योंकि उनकी इस मांग को पूरी नहीं किया गया, ऐसे में खबर आई कि इसलिए ही उन्होंने इस्तीफा देने का फैसला लिया।

बहरहाल चुनावी साल में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम में नेताओं की नाराजगी औऱ दल बदल का सिलसिला जारी है, ऐसे में अब देखना ये होगा कि क्या वाकई में हरक सिंह रावत मान गए हैं या नहीं। फिलहाल हरक सिंह रावत का नारजगी दूर होने पर अभी तक कोई बयान सामने नहीं आया है।

From around the web