उत्तराखंड चुनाव 2022 | इस सीट से चुनाव लड़ेंगे हरीश रावत ! आयी बड़ी खबर

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद अब बारी उम्मीदवारों के ऐलान की है। राजनीतिक दलों में जिताऊ उम्मीदवारों को मैदान में उतारने के लिए मंथन जारी है तो नेता भी टिकट की जुगत में लगे हैं।
 
Harish Rawat
 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद अब बारी उम्मीदवारों के ऐलान की है। राजनीतिक दलों में जिताऊ उम्मीदवारों को मैदान में उतारने के लिए मंथन जारी है तो नेता भी टिकट की जुगत में लगे हैं।

इस बीच बड़ खबर ये है कि कांग्रेस कैम्पेन कमेटी के चेयरमैन और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत चुनाव लड़ सकते हैं, हालांकि हरदा ने इस पर अपने पत्ते नहीं खोले हैं कि वे किस विधानसभा सीट से मैदान में उतरेंगे।

हरदा ने पत्ते भले ही न खोले हैं लोकिन अंदर की खबर ये है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में दो-दो सीटों से चुनाव हारने वाले हरीश रावत कुमाऊं की पहाड़ की सीट से ताल ठोक सकते हैं। सूत्रों के अनुसार हरीश रावत पिथौरागढ़ जिले की डीडीहाट विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतर सकते हैं।

इस खबर को इसलिए दम मिल रहा है क्योंकि कांग्रेस से डीडीहाट सीट पर सभी दावेदारों ने हरीश रावत के चुनाव लड़ने के प्रस्ताव को पास कर दिया है। खबर थी कि सभी 8 दावेदारों को रावत के पक्ष में प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया था। न्यूज18 हिंदी की खबर के अनुसार हरीश रावत को डीडीहाट से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव पास किया गया है और ये प्रस्ताव उत्तराखंड कांग्रेस के पास भेजा गया है। बताया गया है कि डीडीहाट से सभी 8 दावेदारों ने हरीश रावत के समर्थन में एकजुटता का दावा किया है जिसके बाद हरीश रावत के पिथौरागढ़ की डीडीहाट सीट से चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है।

मीडिया ने जब हरीश रावत से इस बारे में पूछा तो उन्होंने डीडीहाट सीट से चुनाव लड़ने पर सीधा जवाब नही दिया। हरदा ने इस सवाल पर चुप्पी साध ली लेकिन उन्होंने इससे इंकार भी नही किया और हाथ जोड़ते हुए कहा कि वही होगा जो भगवान की इच्छा होगी।

आपको बता दें कि डीडीहाट विधानसभा में 25 सालों से बीजेपी के कैबिनेट मंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता बिशन सिंह चुफाल जीतते रहे हैं। उत्तराखंड बनने के बाद कांग्रेस को डीडीहाट में कभी भी जीत नसीब नहीं हुई है। कांग्रेस से यहां अंतिम बार 1992 में लीला राम शर्मा ने जीत दर्ज की था।

अगर पूर्व सीएम हरीश रावत डीडीहाट से चुनाव मैदान में उतरते हैं तो इस सीट पर मुकाबला रोचक होगा। हालांकि खबर ये भी है कि बीजेपी भी इस सीट पर इस बार मौजूदा विधायक बिशन सिंह चुफाल की जगह नए चेहरे को उतार सकती है, अगर ऐसा होता है तो फिर मुकाबला और भी रोचक होगा।

बहरहाल राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस ने अभी तक उम्मीदवारों के नामों का ऐलान नहीं किया है और प्रत्याशियों के नाम पर मंथन जारी है। बीजेपी की पहली सूची जहां 14 जनवरी को मकर संक्रांति के दिन आ सकती है तो इसी के आस पास कांग्रेस के 45 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट आ सकती है। ऐसे में सबको इंतजार उम्मीदवारों के ऐलान का है। देखना होगा कि हरीश रावत डीडीहाट से ही चुनावी मैदान में उतरते हैं या किसी और सीट से।

From around the web