उत्तराखंड | कांग्रेस में शामिल होने के बाद यशपाल आर्य ने कही ये बड़ी बात, बताया क्यों छोड़ी BJP

चुनावी साल में उत्तराखंड से बहुत बड़ी ख़बर है। धामी सरकार में कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने अपने बेटे संजीव आर्य के साथ कांग्रेस का दामन थाम लिया है। मंत्री यशपाल आर्य और उनके पुत्र विधायक संजीव आर्य आज उत्तराखंड कांग्रेस प्रभारी की मौजूदगी में दिल्ली में कांग्रेस में शामिल हुए।
 
0000
 

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) चुनावी साल में उत्तराखंड से बहुत बड़ी ख़बर है। धामी सरकार में कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने अपने बेटे संजीव आर्य के साथ कांग्रेस का दामन थाम लिया है। मंत्री यशपाल आर्य और उनके पुत्र विधायक संजीव आर्य आज उत्तराखंड कांग्रेस प्रभारी की मौजूदगी में दिल्ली में कांग्रेस में शामिल हुए।

कांग्रेस में शामिल होने के बाद यशपाल आर्य ने कहा कि वे बीजेपी में असहज थे इसलिए कांग्रेस में वापस आए हैं। साथ ही कहा कि कांग्रेस को उत्तराखंड में मजबूत करूंगा। लोग भले ही इसे राजनीतिक अवसरवादिता कहें लेकिन मैं बीजेपी में बेहद असहज था। कांग्रेस क्या दलित सीएम प्रोजेक्ट कर सकती है इसलिए आप कांग्रेस में आए हैं के सवाल पर यशपाल आर्य ने कहा कि मैं सिर्फ कांग्रेस को मजबूत करने आया हूं।

यशपाल आर्य के कांग्रेस मे शामिल होने पर कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि इसके बाद भी बहुत सारे लोग आएंगे ,मैं उनका भी एडवांस में स्वागत करता हूं। बहुत सारे लोग लोकतंत्र बचाना चाहते है। हरदा ने कहा कि यशपाल जी कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र है यह बीजेपी और कांग्रेस के बीच पहला अंतर है और दूसरा अंतर ये है की वहा दलित को शोपीस समझा जाता है जबकि कॉन्ग्रेस सबके लिए काम करती है।    वो परिवारिक कारणों से उस समय छोड़कर चले गए थे।

बता दें कि कुछ दिनों से चर्चा चल रही थी कि मंत्री यशपाल आर्य नाराज चल रहे थे। मुख्यमंत्री धामी भी पिछले दिनों उनके घर नाश्ते पर गए थे। इसके बाद से ही इस खबर को ज्यादा हवा मिल गयी। पिछले दिने भाजपा ने कांग्रेस को झटका देते हुए पुरोला से कांग्रेस विधायक राजकुमार को पार्टी में शामिल किया था।

माना जा रहा है कि जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे-वैसे कुछ और बड़े नेता दल बदल सकते है। पार्टीयां भी लगातार ऐसे दावे कर रही है कि विपक्षी पार्टी के नेता उनके संपर्क में है। अब आगे कौन-कौन नेता दल बदल करता है ये तो वक्त ही बताएगा लेकिन फिलहाल यशपाल आर्य और उनके विधायक पुत्र के कांग्रेस में शामिल होने से प्रदेश की सियासत में घमासान मच गया है।

From around the web