डेढ़ महीने में 300 से ज्यादा जनहित के फैसले लिए- CM धामी

हरिद्वार में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि सरकार का उद्देश्य जनहित और राज्यहित में फैसले लेना है। उनकी सरकार वही कर रही है। पुष्कर सिंह धामी ने दावा किया कि 45 दिन के उनके कार्यकाल में करीब तीन सौ निर्णय लिए गए हैं, इनमें 70 निर्णय जनहित और राज्यहित में अति महत्वपूर्ण हैं।
 
Dhami



हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट)
हरिद्वार में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि सरकार का उद्देश्य जनहित और राज्यहित में फैसले लेना है। उनकी सरकार वही कर रही है। पुष्कर सिंह धामी ने दावा किया कि 45 दिन के उनके कार्यकाल में करीब तीन सौ निर्णय लिए गए हैं, इनमें 70 निर्णय जनहित और राज्यहित में अति महत्वपूर्ण हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार महीने की अवधि में टारगेट बेस्ड सभी कार्यों को पूरा किया जाएगा। भाजपा के दो दिवसीय कार्यक्रम के पहले दिन के सत्र समापन के बाद पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों और सरकार के मंत्रियों के साथ बैठक की। कैसे जनता के साथ संवाद बढ़ाया जाए, इस पर चर्चा की।

इससे सभी में नई ऊर्जा का संचार हुआ। धामी ने कहा कि सरकार और संगठन के कार्य पहले से निर्धारित हैं। किसी को नया काम नहीं सौंपा गया है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उनको गति देने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से उत्तराखंड में कई कार्य कराए जा रहे हैं। प्रदेश सरकार भी कई प्रोजेक्ट पर कार्य कर रही है। चार महीने की अवधि में टारगेट बेस्ड सभी काम पूरे हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि बतौर मुख्यमंत्री अपने 45 दिन के कार्यों की जानकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष को दी। इसका मकसद सिर्फ पदाधिकारियों और नेताओं तक साझा करना था, ताकि वह जनता को बता सकें। सीएम ने कहा कि सरकार जन अपेक्षाओं पर खरा उतरने का प्रयास कर रही है। कोरोनाकाल में पर्यटन गतिविधियां ठप रही। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों, स्वास्थ्यकर्मियों और स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं के लिए अलग-अलग आर्थिक पैकेज घोषित किए गए हैं।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि विपक्ष का काम मुद्दों को उठाना है। विपक्ष राज्य हित में सकारात्मक मुद्दे उठाएगा तो सरकार उस पर अमल करेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उत्तराखंड को आध्यात्मिक राजधानी बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि केजरीवाल का सिर्फ और सिर्फ चुनावी एजेंडा है। प्रदेश की जनता उनके बहकावे में आने वाली नहीं है।

From around the web