हल्द्वानी | 84 बेड का कोविड केयर सेंटर बनकर तैयार, कंटेनमेंट जोन बने ये इलाके

उत्तराखंड में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है। पिछले 24 घंटे में उत्तराखंड में कोविड-19 संक्रमण के 2220 नए केस सामने आ चुके हैं, वहीं 13 लोगों की मौत हो चुकी है।
 
हल्द्वानी | 84 बेड का कोविड केयर सेंटर बनकर तैयार, कंटेनमेंट जोन बने ये इलाके

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट)

राजधानी देहरादून में गुरुवार को कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है। 914 केस राजधानी देहरादून में सामने आए है। इसके अलावा हरिद्वार में 613 केस सामने आए हैं। वहीं नैनीताल जिले में कोरोना के 156 नए केस मिले हैं। ऊधम सिंह नगर में 131 केस मिले हैं।

इस बीच हल्द्वानी से बड़ी खबर सामने आयी है। यहां कोरोना वायरस के बढ़ते मामले देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने कोविड-19 केयर सेंटर तैयार कर लिए हैं। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने बद्रीपुरा स्थित मिनी स्टेडियम में 150 बेड का कोविड-19 केयर सेंटर बनाने की कार्रवाई शुरू की है जिसमें 80 बेड तैयार हो चुके हैं और बाकी बेड जल्द तैयार होंगे। इसके अलावा मोटहल्दु कोविड-19 सेंटर में 53 बेड हैं जहां पर अभी 17 संक्रमित भर्ती हो चुके हैं।

इसके अलावा बागजाला गौलापार और मोती नगर कोविड-19 सेंटर भी तैयार किया जा रहा है इसके अलावा आपातकालीन स्थिति में होटलों को भी कोविड-19 सेंटर बनाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों ने होटल स्वामियों के साथ वार्ता कर ली है और सभी इसके लिए सहमत हैं। बता दें कि हल्द्वानी में तेजी से केस बढ़ रहे है। शहर में कोरोना की स्थिति को काबू में रखने को प्रशासन ने 6 और मोहल्लों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है जिसमें द्वारिका पुरी, आरटीओ ऑफिस रोड, नीलकंठ कॉलोनी लालडाँठ, गॉडधड़ा बिठौरिया, हिल्स व्यू एनक्लेव, गायत्री कॉलोनी मल्ली बमोरी, मधुबन एनक्लेव मौसम खेड़ा को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है जहां अगले आदेशों तक आवाजाही पूरी तरह बंद की गई है।

From around the web