उत्तराखंड | हर विधायक ऐसा हो तो क्यों नहीं बदलेगी स्कूलों की तस्वीर

रुद्रप्रयाग से एक अच्छी खबर सामने आयी है। जिले के जखोली विकासखंड के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र पूर्वी बांगर के बक्शीर में प्राथमिक विद्यालय छतिग्रस्त हो गया था। अब सरकार ने इस पर काम करते हुए इसे दोबारा से बनवाया गया है। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसकी तस्वीर शेयर की है। पूर्व मुख्यमंत्री ने इस पहल के लिए रुद्रप्रयाग से भाजपा विधायक भरत सिंह चौधरी को शुभकामनाएं दी है।
 
उत्तराखंड | हर विधायक ऐसा हो तो क्यों नहीं बदलेगी स्कूलों की तस्वीर

रूद्रप्रयाग (उत्तराखंड पोस्ट) रुद्रप्रयाग से एक अच्छी खबर सामने आयी है। जिले के जखोली विकासखंड के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र पूर्वी बांगर के बक्शीर में प्राथमिक विद्यालय छतिग्रस्त हो गया था। अब सरकार ने इस पर काम करते हुए इसे दोबारा से बनवाया गया है।

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसकी तस्वीर शेयर की है। पूर्व मुख्यमंत्री ने इस पहल के लिए रुद्रप्रयाग से भाजपा विधायक भरत सिंह चौधरी को शुभकामनाएं दी है।

रुद्रप्रयाग के विधायक भरत सिंह चौधरी ने भी सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीरें शेयर की है। उन्होंने कहा, ‘कुछ समय पहले मेरे संज्ञान में जखोली विकासखंड के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र पूर्वी बांगर के बक्शीर में प्राथमिक विद्यालय के छतिग्रस्त भवन बारे में बताया गया था। जहाँ बच्चों को पठन पाठन छतिग्रस्त भवन में करना पड़ रहा था। जो की बहुत ही चिंताजनक था। उसी समय मेरे द्वारा विभाग को शीघ्र भवन निर्माण के लिए विभाग को बोला गया था। विद्यालय का नया भवन बनकर तैयार हो गया है। जहाँ इस सत्र से कक्षाओं का संचालन हो शुरू हो गया था। बशिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने का लगातार प्रयास पिछले चार सालों से जारी है।’

विधायक ने कहा, ‘मेरे द्वारा चार सालों में विधायक निधि का 52% हिस्सा शिक्षा पर ख़र्च किया गया। जिसमें सभी विद्यालयों में E-learning, इन्वर्टर, भवन निर्माण, भवन मरम्मतीकरण, प्राथर्ना स्थल निर्माण, मैदान निर्माण, शौचालय निर्माण, फर्नीचर, विज्ञान उपकरण, कंप्यूटर आदि विद्यालयों को उपलब्ध कराया गया। इसके साथ साथ जिला योजना एवं राज्य सरकार,सर्वशिक्षा अभियान के तहत भी  विद्यालयों में विभिन्न निर्माण कार्य कराए गए। शिक्षा व्यवस्था और बेहतर बनाने  का प्रयास जारी है। हमारे बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले सभी स्कूलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध हो इसके लिए निरंतर प्रयास जारी रहेगा।’

From around the web