उत्तराखंड |  स्कूल में हुई थी 8वीं के छात्र की संदिग्ध मौत, सामने आई वजह

उधमसिंह नगर जिले के गदरपुर से एक दुखद खबर सामने आई है। यहां सरस्वती विद्या मंदिर में कक्षा 8वीं के छात्र की संदिग्ध मौत की खबर से हड़कंप मच गया।

 
dead

गदरपुर (उत्तराखंड पोस्ट ) उधमसिंह नगर जिले के गदरपुर से एक दुखद खबर सामने आई है। यहां सरस्वती विद्या मंदिर में कक्षा 8वीं के छात्र की संदिग्ध मौत की खबर से हड़कंप मच गया।

जानकारी के मुताबिक ग्राम मझराशीला निवासी राम सिंह तोपाल का पुत्र विवेक सिंह (14) सरस्वती विद्या मंदिर में कक्षा नौ का छात्र था। मंगलवार को वह स्कूल गया था। पुलिस के अनुसार सुबह करीब 11 बजे विवेक का अपनी कक्षा के दूसरे छात्र से झगड़ा होने के बाद धक्का-मुक्की हुई। धक्का लगने से विवेक मेज से टकरा कर अचेत हो गया।

 

बताया जा रहा है कि 5वां पीरियड खत्म हुआ तो शिक्षिका अंजलि क्लास रूम से बाहर निकल गईं। वह कुछ दूर ही पहुंची थीं कि क्लास से शोरगुल होने पर वापस क्लास में आ गई तो देखा कि विवेक जमीन पर गिरा पड़ा था। शिक्षिका ने इसकी सूचना स्टाफ को दी। सूचना पर स्कूल स्टाफ ने घायल छात्र को ई रिक्शा से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया लेकिन डॉक्टरों ने विवेक को मृत घोषित कर दिया।

शोर-शराबा सुनकर पहुंचे शिक्षक विवेक को सीएचसी गदरपुर ले गए, जहां डॉक्टर ने विवेक को मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पुलिस पहुंची औऱ शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस स्कूल पहुंची और सीसीटीवी की फुटेज खंगाले। साथ स्कूल में शिक्षकों समेत बच्चों से पूछताछ की।

बताया जा रहा है कि विवेक की चचेरी बहन भी उसी स्कूल में पढ़ती है। उसे जब इस बारे में पता चला तो उसने अपने माता-पिता को इसकी जानकारी दी, जिनके जरिए घटना की जानकारी विवेक के घर पहुंची। यह सुनते ही घर में कोहराम मच गया। छात्र परिवार का इकलौता चिराग था।

सीओ वंदना वर्मा ने बताया कि घटना के बाद सीसीटीवी की फुटेज की जांच और स्टाफ से पूछताछ की जा रही है। बताया कि प्रारंभिक जांच में मृतक छात्र विवेक सिंह व इसी क्लास के एक अन्य छात्र में कॉपी को लेकर विवाद होने की जानकारी मिली है। विवाद इतना बढ़ा कि दूसरे छात्र ने विवेक को धक्का दे दिया, जिससे वह बेंच पर गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया और अस्पताल लाते समय उसकी मौत हो गई। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही मौत के सही कारणों की पुष्टि होगी।

सीओ वंदना सिंह ने अस्पताल के डॉक्टरों के हवाले से बताया कि मृतक छात्र के शरीर पर कोई भी चोट का निशान नहीं था। ऐसे में हो सकता है कि दोेनों छात्रों में धक्कामुक्की के दौरान जब विवेक बेंच पर गिरा तो उसे कोई अंदरूनी चोट लगी हो, जिससे उसकी मौत हो गई।

From around the web