त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल का होगा विस्तार, दो विधायकों की खुलेगी किस्मत, मिलेगी मंत्री की कुर्सी !

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं। चर्चा है कि 2019 में आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल में दो नए चेहरों को शामिल कर सकते हैँ।

आपको बता दें कि मार्च 2017 में त्रिवेंद्र सरकार गठन के बाद से ही दावेदारों की लंबी लिस्ट के चलते त्रिवेंद्र मंत्रीमंडल में दो सीटें खाली हैं। उस वक्त त्रिवेंद्र सिंह रावत ने केवल नौ ही विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया। इनमें मुख्यमंत्री के अलावा सात कैबिनेट मंत्री व दो राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाए गए।

दरअसल 70 सदस्यीय राज्य विधानसभा होने के कारण उत्तराखंड में मंत्रिमंडल का आकार मुख्यमंत्री समेत अधिकतम बारह सदस्यीय ही हो सकता है। ऐसे में मंत्रिमंडल में दो पद रिक्त हैं। इन पदों के लिए कई वरिष्ठ और कई बार से जीतते आ रहे विधायकों ने जगह पाने के लिए कूब जोर लगाया।

भाजपा के पास लगभग दो दर्जन ऐसे विधायक थे, जो दो या ज्यादा बार विधायक का चुनाव जीते। यही नहीं, पूर्व में मंत्री रह चुके पांच वरिष्ठ विधायकों को भी मौका नहीं मिल पाया। दावेदारों की लंबी फेरहिस्त को देखते हुए दो पद उस वक्त खाली छोड़ दिए गए।

अब खबर है कि इन पदों पर दो नए मंत्री बनाए जा सकते हैं और लोकसभा चुनाव से पहले इस पर फैसला हो सकता है। सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र आलाकमान के निर्देश पर एक राज्यमंत्री धन सिंह रावत को प्रमोट कर कैबिनेट में शामिल कर सकते हैं तो कुमाऊं से एक विधायक को मंत्री की कुर्सी से नवाज सकते हैं।

वहीं खबर ये भी है कि अगर धन सिंह रावत को कैबिनेट मंत्री नहीं बनाया जाता है को एक गढ़वाल और एक कुमाऊं मंडल के विधायक को मंत्री पद दिया जा सकता है। अब ये विधायक कौन होगा, ये तो वक्त ही बताएगा, फिलहाल मंत्री की कुर्सी के लिए जोर-आजमाईश का दौर शुरु हो चुके हैं, देखते हैं इसमें बाजी कौन मारता है।

वर्ष 2019 में छुट्टियों की भरमार, दशहरा-दीपावली पर 4-4 दिन की छुट्टियां

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/

पेट्रोल पंप खोलकर लाखों कमाने का सुनहरा मौका ! पूरी जानकारी यहां