“आम जनता को पेयजल किल्लत हुई तो अब नपेंगे अधिकारी”

dr. kk paulगर्मियों में पेयजल संकट से निपटने के लिए सचिवालय में एक अहम बैठक के दौरान राज्यपाल डॉ. केके पॉल ने पेयजल विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रदेश में पेयजल आपूर्ति सम्बन्धी व्यवस्थाओं की समीक्षा की। राज्यपाल डॉ. पॉल ने विभागीय अधिकारियों को प्रदेश में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जनता को पीने का पानी उपलब्ध करवाना सरकार व शासन का अहम दायित्व है, ऐसे में अधिकारी इसमें कोताही ना बरतें और पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करें। राज्यपाल ने कहा कि बिते वर्षों में पेयजल सम्बन्धी समस्याओं से गंभीर रूप से प्रभावित रहे क्षेत्रों को प्राथमिक्ता से चिन्हित कर वहां पर पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। (पढ़ें-वनों की आग को फैलने से रोकें, राज्यपाल ने दिए अधिकारियों को निर्देश)

गौरतलब है कि प्रदेश के कई जिलों में इस बार सूखे के हालात बने हुए हैं, साथ ही कई जिलों में पेयजल का संकट गहराया हुआ है। इसी को मद्देनजर रखते हुए राज्यपाल ने इस पर अधिकारियों को पेयजल आपूर्ति में कोताही ना बरतने के निर्देश दिए हैं। (पढ़ें-ग्रामीण विकास की योजनाओं को प्राथमिकता दें अधिकारी : मुख्य सचिव) (पढ़ें-दुर्गम स्थानों पर भी होगी डॉक्टरों की तैनाती, राज्यपाल ने दिए निर्देश)