उत्तराखंड की ये लोकसभा सीट जीती बीजेपी तो केंद्र में नहीं बनेगी मोदी सरकार !

2874

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) चुनाव जीतने के बाद हर नेता की चाहत होती है कि वो सरकार में रहे, सत्ता में भागीदार बने लेकिन उत्तराखंड भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट के साथ ऐसे नहीं होता आया है।

अजय भट्ट के साथ ये अजब इत्तेफाक रहा या फिर इसे उनकी बदकिस्मती कहें, जब-जब अजय भट्ट खुद चुनाव जीते, तब-तब उऩकी पार्टी सत्ता से दूर रही। वहीं जब-जब अजय भट्ट चुनाव हारे, तब-तब उनकी पार्टी ने सत्ता हासिल की।

एक बार फिर अजय भट्ट चुनाव मैदान में हैं। इस बार वे विधायकी का नहीं बल्कि सांसदी का चुनाव लड़ रहे हैं। नैनीताल-ऊधमसिंह नगर सीट से बीजेपी प्रत्याशी अजय भट्ट का मुकाबला कद्दावर कांग्रेसी नेता पूर्व सीएम हरीश रावत से है। जाहिर है दो दिग्गज एक सीट से मैदान में हैं तो मुकाबला तो रोचक होगी है। मतलब आप आसानी से अंदाजा नहीं लगा पाएंगे कि इस सीट पर कौन किस पर भारी पड़ रहा है।

ऐसे में सवाल सब के मन में सिर्फ एक ही है कि क्या अजय भट्ट चुनाव जीत पाएंगे ? ऐसा इसलिए क्योंकि उत्तराखंड भाजपा अध्यक्ष अजय भटट ने उत्तराखंड राज्य गठन के बाद से अब तक सभी चुनाव लड़े हैं और जब – जब वे जीते तो राज्य में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है और जब-जब वे हारे तो राज्य में बीजेपी की सरकार बनी है।

अब जब तमाम एक्जिट पोल केंद्र में फिर एक बार मोदी सरकार बनने का दावा कर रहे हैं तो सवाल वही क्या बीजेपी सरकार बनेगी तो अजय भट्ट चुनाव हार जाएंगे ? या इस बार अजय भट्ट इस मिथक को तोड़ देंगे, जो उनके साथ जुड़ा है कि उनकी जीत होने पर उकी पार्टी सरकार नहीं बना पाती और उनके हारने पर पार्टी की सरकार बन जाती है।

एक्जिट पोल | उत्तराखंड में ये एक सीट जीत सकती है कांग्रेस, जानिए

2002 के विधानसभा चुनाव में जीते भट्ट | 2002 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में रानीखेत विधानसभा सीट से अजय भट्ट ने जीत हासिल की लेकिन उनकी पार्टी भाजपा सत्ता हासिल नहीं कर पाई और राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी।

2002 के विधानसभा चुनाव में हारे भट्ट | 2007 के विधानसभा चुनाव में अजय भट्ट एक बार फिर से रानीखेत विधानसभा सीट से ही मैदान में थे लेकिन इस बार भट्ट चुनाव हार गए। लेकिन इस बार उनकी पार्टी भाजपा ने बहुमत हासिल किया और राज्य में भाजपा की सरकार बनी।

2012 के विधानसभा चुनाव में जीते भट्ट | 2012 में विधानसभा चुनाव में अजय भट्ट रानीखेत विधानसभा से चुनाव तो जीत गए लेकिन इस बार उनकी पार्टी कांग्रेस से एक सीट पीछे रह गई और राज्य में इस बार कांग्रेस की सरकार बनी।

2017 के विधानसभा चुनाव में हारे भट्ट | 2017 के विधानसभा चुनाव में राज्य में बीजेपी ने बंपर जीत हासिल की लेकिन बीजेपी के सेनापति अजय भट्ट चुनाव हार गए।

BJP की बड़ी जीत लेकिन सेनापति अजय भट्ट हार गए चुनाव

2019 लोकसभा चुनाव | अजय भट्ट फिर चुनावी मैदान में हैं और इस बार संसद भवन पहुंचने के लिए किस्मत आजमा रहे हैं और सामने हैं हरीश रावत।

नैनीताल में हरीश रावत बनाम अजय भट्ट | कौन मारेगा बाजी ? पढ़िए इस सीट का पूरा इतिहास

बहरहाल अजय भट्ट अपनी जीत के साथ ही न सिर्फ राज्य की पांचों लोकसभा सीट पर जीत का दावा कर रहे हैं बल्कि केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार बनने का दावा तो कर रहे हैं लेकिन सवाल वही है कि क्या उत्तराखंड राज्य गठन के बाद से चला आ रहा अजीब इत्तेफाक या कहें भट्ट की बदकिस्मती उनका पीछा छोड़ेगी ? हालांकि इसका फैसला तो राज्य की जनता ही करेगी। फिलहाल सबको इंतजार है नतीजों का।

मारा youtube  चैनल Subscribe करें- http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/